'हिंदुत्व को मानने वाली 2 पार्टियां फिर जुड़ गईं', दीपक केसरकर बोले- भाजपा ने दिखाया बड़ा दिल, हमारे साथियों के फैसले को किया स्वीकार

Deepak Kesarkar
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
अनुराग गुप्ता । Jun 30, 2022 10:00PM
शिवसेना विधायक दीपक केसरकर ने कहा कि हिंदुत्व को मानने वाली 2 पार्टियां अलग हो गई थी, आज फिर से साथ जुड़ गई है। हमारे 50 साथियों का योगदान महत्वपूर्ण है। वो चाहते थे कि शिंदे साहब को एक बार मुख्यमंत्री पद मिलना चाहिए भाजपा ने इस फैसले को स्वीकार किया।

मुंबई। महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाली नई सरकार का गठन हुआ है। राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने गुरुवार की शाम एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री पद की और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस को उपमुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट से झटका लगने के बाद उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस ने राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया था।

इसे भी पढ़ें: 'हमें अपनों ने दिया धोखा', आदित्य ठाकरे बोले- कठिन समय में हमारे साथ रही कांग्रेस-NCP 

भाजपा ने दिखाया बड़ा दिल

इसी बीच शिवसेना विधायक दीपक केसरकर का बयान सामने आया। जिसमें उन्होंने एकनाथ शिंदे और भाजपा की जमकर तारीफ की। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, शिवसेना विधायक दीपक केसरकर ने कहा कि हिंदुत्व को मानने वाली 2 पार्टियां अलग हो गई थी, आज फिर से साथ जुड़ गई है। हमारे 50 साथियों का योगदान महत्वपूर्ण है। वो चाहते थे कि शिंदे साहब को एक बार मुख्यमंत्री पद मिलना चाहिए भाजपा ने इस फैसले को स्वीकार किया।

उन्होंने कहा कि 106 विधायक होने के बावजूद भाजपा ने (एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाने का) यह फैसला लिया। इसका मतलब है कि उन्होंने बड़ा दिल दिखाया। दीपक केसरकर ने कहा कि कहा जा रहा था कि देवेंद्र फडणवीस उपमुख्यमंत्री पद से नाराज हैं लेकिन मैं उन्हें अच्छी तरह जानता हूं। वह इतने कुशल हैं कि सभी पदों पर अच्छा काम करते हैं। वह राज्य के लिए एक संपत्ति है। अगर वह अपने अधूरे सपनों के प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए मंत्रालय में हैं, तो यह अच्छा होगा। 

इसे भी पढ़ें: PM मोदी ने एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस को दी बधाई, बोले- विश्वास है महाराष्ट्र का विकास पथ होगा और मजबूत 

शरद पवार ने दी बधाई

एनसीपी नेता शरद पवार ने एकनाथ शिंदे को बधाई दी। उन्होंने कहा कि मैं एकनाथ शिंदे को उनकी नई जिम्मेदारी के लिए बधाई देता हूं। उन्होंने इतनी बड़ी संख्या में विधायकों को गुवाहाटी ले जाने की ताकत दिखाई। उन्होंने लोगों को शिवसेना छोड़ने के लिए प्रेरित किया। इससे पहले शरद पवार ने ट्वीट किया कि दिवंगत यशवंतराव चव्हाण, बाबासाहेब भोसले और पृथ्वीराज चव्हाण के बाद, सतारा के एक और व्यक्ति मुख्यमंत्री बने हैं।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़