भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के 20,549 नए मामले सामने आए, कोरोना का नया स्ट्रेन भी पसार रहा पैर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 30, 2020   11:03
भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के 20,549 नए मामले सामने आए, कोरोना का नया स्ट्रेन भी पसार रहा पैर

भारत में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 20,549 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 1,02,44,852 हो गई है, जबकि इनमें से ठीक हो चुके लोगों की संख्या बढ़कर98.34 लाख हो गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बुधवार को जारी ताजा आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है।

नयी दिल्ली। भारत में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 20,549 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 1,02,44,852 हो गई है, जबकि इनमें से ठीक हो चुके लोगों की संख्या बढ़कर98.34 लाख हो गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बुधवार को जारी ताजा आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। लोगों के संक्रमण से उबरने की राष्ट्रीय दर95.99 प्रतिशत है। सुबह आठ बजे जारी इन आंकड़ों के अनुसार 286 और रोगियों की मौत होने के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 1,48,439 हो गई है। मंत्रालय ने कहा कि अब तक कुल 98,34,141 लोग ठीक हो चुके हैं, जिससे संक्रमण से उबरने की दर 95.99 प्रतिशत हो गई है, जबकि कोविड-19 मृत्युदर 1.45 प्रतिशत है।

इसे भी पढ़ें: गुजरात में कोरोना वायरस संक्रमण के 804 नये मामले, सात की मौत 

आंकड़ों के अनुसार कोविड-19 के उपचाराधीन रोगियों की संख्या लगातार नौवें दिन तीन लाख से कम रही। देश में उपचाराधीन रोगियों की संख्या 2,62,272  है, जो कुल संक्रमितों का 2.56 प्रतिशत है। भारत में सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को 40 लाख के पार चली गई थी।

इसे भी पढ़ें: कर्नाटक में कोरोना वायरस संक्रमण के 662 नए मामले, चार और मरीजों की मौत

वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख, 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवम्बर को 90 लाख और 19 दिसम्बर को एक करोड़ के पार चले गए थे। भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (आईसीएमआर) के मुताबिक 29 दिसंबर तक 17,09,22,030 नमूनों की जांच की चुकी है। इनमें से11,20,281 जांच मंगलवार को की गई।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।