दर्जी की हत्या का आरोपी ‘भाजपा का सदस्य’ नहीं : भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा

BJP Minority Morcha
ANI
उदयपुर में दर्जी कन्हैयालाल के एक विवादास्पद सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर ग्राहक बनकर आए रियाज अख्तरी और गौस मोहम्मद ने मंगलवार को उसकी दुकान में चाकू से हमला कर उसकी हत्या कर दी थी।

जयपुर। भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) अल्पसंख्यक मोर्चा ने शनिवार को इस आरोप का खंडन किया कि उदयपुर के कन्हैया लाल हत्याकांड का मुख्य आरोपी भाजपा का सदस्य है। उदयपुर में दर्जी कन्हैयालाल के एक विवादास्पद सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर ग्राहक बनकर आए रियाज अख्तरी और गौस मोहम्मद ने मंगलवार को उसकी दुकान में चाकू से हमला कर उसकी हत्या कर दी थी। भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष सादिक खान ने रियाज की कुछ स्थानीय भाजपा नेताओं के साथ एक तस्वीर सामने आने के बाद शनिवार को कहा कि तस्वीर इस बात का सबूत नहीं है कि आरोपी भाजपा का सदस्य है।

इसे भी पढ़ें: मनरेगा ने कोविड के दौरान लाखों लोगों के लिए रक्षक की भूमिका निभाई : राहुल गांधी

सादिक ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘कोई भी व्यक्ति किसी नेता के साथ तस्वीर ले सकता है। इसका मतलब यह नहीं है कि वह भाजपा का सदस्य है।’’ उन्होंने कहा कि आरोपी पार्टी के किसी कार्यक्रम में गया होगा और स्थानीय नेताओं के साथ तस्वीरें ली होंगी। सादिक ने कहा, ‘‘चूंकि फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया मंचों पर नेताओं या मशहूर हस्तियों के साथ तस्वीरें अपलोड करना एक सामान्य चलन है, तो हो सकता है कि उसने इसलिए तस्वीर अपलोड की हो, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आरोपी भाजपा का सदस्य है।’’

इसे भी पढ़ें: जल जीवन मिशन योजना में नौकरी का झांसा देकर ठगने वाले दो व्यक्ति गिरफ्तार

उन्होंने कहा कि यह घटना राज्य सरकार की नाकामी है क्योंकि कन्हैयालाल को स्पष्ट धमकी मिलने के बावजूद उसे सुरक्षा मुहैया नहीं कराई गई। भाजपा नेता ने कहा कि पिछले साढ़े तीन साल में अल्पसंख्यकों के लिए कुछ नहीं करने वाली मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सरकार की विफलता से जनता का ध्यान हटाने के लिये कांग्रेस भाजपा पर आरोप लगा रही है।सादिक ने कहा कि आरोपी अख्तरी की मोटरसाइकिल का नंबर 2611 था जो उसने 2013 में अपनी पसंद से प्राप्त किया था और यह उनकी कट्टरपंथी विचारधारा को दर्शाता है।

कन्हैयालाल की मंगलवार को अख्तरी और मोहम्मद ने चाकू से हमला कर हत्या कर दी थी। आरोपियों ने हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए अपराध का भयानक वीडियो ऑनलाइन पोस्ट किया था। घटना के कुछ घंटे बाद दोनों आरोपियों को राजसमंद के भीम क्षेत्र में पकड़ लिया गया था। उदयपुर की मालदास गली में स्थित कन्हैयालाल की दुकान की टोह लेने और हत्या के षड्यंत्र में शामिल होने के आरोप में दो और लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़