अय्यर के बयान भाजपा ने कहा- कांग्रेस का दोहरा चरित्र सामने आया

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 14 2019 3:05PM
अय्यर के बयान भाजपा ने कहा- कांग्रेस का दोहरा चरित्र सामने आया
Image Source: Google

भाजपा प्रवक्ता जी वी एल नरसिम्ह राव ने अपने ट्वीट में कहा कि ‘‘ अपशब्द कहने का मुखिया : एब्यूजर इन चीफ :’’ 2017 की अपनी ‘नीच’ टिप्पणी को उचित ठहराने लौटे। उन्होंने कहा, ‘‘अय्यर ने तब अपनी खराब हिन्दी का बहाना बनाकर माफी मांगी थी।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री पर मणिशंकर अय्यर की टिप्पणी को लेकर कांग्रेस को कटघरे में खड़ा करते हुए भाजपा ने मंगलवार को कांग्रेस का दोहरा चरित्र और अहंकार फिर सामने आया है और उसे इस बारे में जवाब देना चाहिए। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भाजपा मुख्यालय में संवाददाताओं से कहा कि मणिशंकर अय्यर ने जो कहा है वह एक वेबसाइट पर लेख में कहा है, उस पर कांग्रेस का क्या कहना है ? उन्होंने पूछा कि अय्यर के बयान पर कांग्रेस को क्या कहना है ? चुनाव प्रचार अभियान के दौरान भाषा मर्यादा के उल्लंघन पर एक सवाल के जवाब में सिंह ने कहा कि यह रूकना चाहिए, इसे रोका जाना चाहिए क्योंकि किसी भी जिम्मेदार नेता को इस प्रकार की बातें नहीं करनी चाहिए। 

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: अय्यर ने प्रधानमंत्री को कहा था 'नीच किस्म का आदमी', बयान को ठहराया सही

भाजपा प्रवक्ता जी वी एल नरसिम्ह राव ने अपने ट्वीट में कहा कि ‘‘ अपशब्द कहने का मुखिया : एब्यूजर इन चीफ :’’ 2017 की अपनी ‘नीच’ टिप्पणी को उचित ठहराने लौटे। उन्होंने कहा, ‘‘अय्यर ने तब अपनी खराब हिन्दी का बहाना बनाकर माफी मांगी थी। अब वे कह रहे हैं कि उनका आकलन सही था। कांग्रेस ने पिछले साल उनके निलंबन को वापस ले लिया था। कांग्रेस का दोहरा चरित्र और अहंकार फिर सामने आया। ’’ बहरहाल, कई महीनों तक चुप्पी साधे रहने के बाद कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर मंगलवार को एक बार फिर सुर्खियों में आ गए जब उन्होंने अपने एक लेख में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ ‘नीच’ शब्द के प्रयोग को उचित ठहराया और सबसे खराब भाषा प्रयोग करने वाला प्रधानमंत्री बताया। अपने लेख में अय्यर ने कई मुद्दों पर मोदी की आलोचना की और कहा कि याद करें कि किस प्रकार से मैंने 7 दिसंबर 2017 को उनकी व्याख्या की थी। क्या मेरा आकलन सही नहीं था ? 2017 में पूर्व केंद्रीय मंत्री ने मोदी को ‘नीच आदमी’ संबोधित किया था जिसके बाद उन्हें कांग्रेस पार्टी से निलंबित कर दिया गया था। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video