बघेल ने किया ​मीडिया को लेकर ट्वीट, भाजपा ने कहा माफी मांगें मुख्यमंत्री

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 30, 2021   05:19
बघेल ने किया ​मीडिया को लेकर ट्वीट, भाजपा ने कहा माफी मांगें मुख्यमंत्री
प्रतिरूप फोटो

मुख्यमंत्री बघेल का ट्वीट एक समाचार चैनल की महिला एंकर द्वारा एक कार्यक्रम में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के लिए कथित आपत्तिजनक शब्द का उपयोग करने के बाद आया है। हालांकि बाद में उस पत्रकार ने अपनी टिप्पणी के लिए खेद जताया था।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मीडिया को लेकर किए गए ट्वीट के बाद राज्य के मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी ने मुख्यमंत्री से माफी मांगने के लिए कहा है।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के एक ट्वीट को लेकर राज्य में सत्ताधारी कांग्रेस और विपक्षी दल भाजपा आमने-सामने है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार देर रात अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया, कान खोलकर सुन लिया जाए। राहुल गांधी जी इस समय विपक्ष के प्रमुख नेता हैं। उनके बारे में अभद्र का प्रयोग कांग्रेस कार्यकर्ता कतई स्वीकार नहीं करेंगे। लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ का दायित्व निभा रहे हर मीडिया का पूर्ण सम्मान है। लेकिन मर्यादा नहीं भूलना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: नान घोटाला मामला : अधिकारियों को बचाने की कोशिश — रमन सिंह

मुख्यमंत्री बघेल का ट्वीट एक समाचार चैनल की महिला एंकर द्वारा एक कार्यक्रम में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के लिए कथित आपत्तिजनक शब्द का उपयोग करने के बाद आया है। हालांकि बाद में उस पत्रकार ने अपनी टिप्पणी के लिए खेद जताया था।

मुख्यमंत्री के ट्वीट के बाद भाजपा ने इसे राजनीतिक विरोधियों और मीडिया के लिए सत्तावादी अहंकार में असहिष्णुता की पराकाष्ठा कहा है। राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता धरमलाल कौशिक ने कहा है कि मुख्यमंत्री के ट्वीट की प्रदेशवासियों के साथ ही मीडिया प्लेटफॉर्म्स के लिए भी धमकी भरी है और उन्होंने मीडिया जगत को मर्यादा में रहने की खुली चेतावनी दी है।

कौशिक ने कहा कि अभिव्यक्ति की आज़ादी का झंडा लेकर जब-तब प्रलाप करने वाले मुख्यमंत्री बघेल की यह अपने राजनीतिक और वैचारिक विरोधियों और मीडिया के लिए सत्तावादी अहंकार में पलती-पनपती असहिष्णुता की पराकाष्ठा है।

इसे भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में शुरू होगी बैडमिंटन अकादमी

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि भाजपा किसी के भी प्रति अभद्र के प्रयोग की हिमायती नहीं है, लेकिन किसी मुख्यमंत्री की मर्यादा के पालन की एकतरफा अपेक्षा में इस तरह की धमकी भरी को भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कौशिक ने कहा कि मीडिया जगत को मर्यादा में रहने की धमकी देने के लिए उन्हें (बघेल को) प्रदेश और मीडिया जगत से बिना शर्त माफी मांगनी चाहिए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।