सबके हैं नीतीश कुमार, JDU मुख्यालय में लगा पोस्टर, कल लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ !

JDU
ANI Image
जदयू मुख्यालय के बाहर नीतीश कुमार सबके हैं... का पोस्टर दिखाई दे रहा है। क्योंकि नीतीश कुमार ने भाजपा के साथ गठबंधन समाप्त कर महागठबंधन से हाथ मिला लिया है। ऐसे में कहा जा रहा है कि नीतीश कुमार कल यानी की बुधवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं।

पटना। बिहार में राजनीति का नया अध्याय लिखा जा रहा है। नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली जदयू ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ अपना गठबंधन समाप्त कर दिया। साथ ही नीतीश कुमार ने राज्यपाल फागू चौहान के समक्ष 160 विधायकों के समर्थन का दावा किया। इसके तत्काल बाद नीतीश कुमार पटना स्थित राबड़ी देवी के आवास पहुंचे, जहां पर तेजस्वी समेत महागठबंधन के नेताओं के साथ बैठक की। इस बैठक में नीतीश कुमार को महागठबंधन का नेता चुना गया।

इसे भी पढ़ें: 'बिहार से भाजपा भगाओ का आ रहा नारा', अखिलेश बोले- राजनीतिक दलों के लोग BJP के खिलाफ होंगे खड़े 

इसी बीच जदयू मुख्यालय के बाहर नीतीश कुमार सबके हैं... का पोस्टर दिखाई दे रहा है। इस तस्वीर को समाचार एजेंसी एएनआई ने साझा किया था लेकिन बाद में पुरानी तस्वीर बताते हुए इसे वापस ले लिया। भले ही यह तस्वीर पुरानी हो लेकिन इसके मायने अभी भी निकाले जा रहे हैं। नीतीश कुमार ने भाजपा के साथ गठबंधन खत्म कर दिया है... ऐसे में नीतीश सबके हैं... कहा जा रहा है कि नीतीश कुमार कल यानी की बुधवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं।

आपको बता दें कि नीतीश कुमार ने इस्तीफा देने के बाद मीडियाकर्मियों से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने बताया कि दोनों सदनों के सांसद सारे विधायक और विधानपार्षद से सारी मीटिंग आज हुई। सभी की इच्छा यही थी की हमें एनडीए छोड़ देना चाहिए। तो जैसी सबकी इच्छा थी हमने उसी को स्वीकार कर लिया और जो में एनडीए की सरकार में मुख्यमंत्री था उस पद से इस्तीफा सौंप दिया।

इसे भी पढ़ें: नीतीश के पलटी मारने पर भाजपा की आई पहली प्रतिक्रिया, आरके सिंह बोले- इसमें नैतिकता नहीं, उन्हें शर्म आनी चाहिए 

नीतीश पर भाजपा ने साधा निशाना

भाजपा ने नीतीश कुमार पर बड़ा हमला बोला है। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा कि भाजपा ने 74 सीट जीतेने के बाद भी वादे के मुताबिक नीतीश कुमार जी को एनडीए गठबंधन का मुख्यमंत्री बनाया था। यह बिहार की जनता और भाजपा के साथ धोखा है, जनता के फैसले का उल्लंघन है। बिहार की जनता इसे बर्दाशत नहीं करेगी।

अन्य न्यूज़