कोरोना से लड़ने भाजपा ने किया विशेष कार्यदल का गठन, कार्यदल में सिंधिया समर्थक एक नेता भी शामिल

कोरोना से लड़ने भाजपा ने किया विशेष कार्यदल का गठन, कार्यदल में सिंधिया समर्थक एक नेता भी शामिल

कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न परिस्थिति की समय-समय पर समीक्षा और सरकार के साथ समन्वय तथा संगठन की अधिक सक्रियता बढ़ाने की दृष्ट्री से विशेष कार्यदल का गठन किया गया है। जिसमें प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा को संयोजक बनाया गया है।

भोपाल। मध्य प्रदेश में शिवराज मंत्रीमंडल विस्तार को लेकर चल रही खबरों के बीच भाजपा ने कोरोना संकट से उत्पन्न स्थिति और नव गठित शिवराज सरकार को सहयोग करने की दृष्टि से विशेष कार्यदल  (स्पेशल टॉस्क फोर्स) का गठन किया है। जिसमें भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा सहित 11 भाजपा नेताओं को शामिल किया गया है।  प्रदेश भाजपा द्वारा गठित इस विशेष कार्यदल में हालही में कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए सिंधिया समर्थक और कमलनाथ सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रहे तुसली सिलावट को शामिल किया गया है। 

इसे भी पढ़ें: सिंधिया भाजपा में तो आ गये, पर संसद सदस्यता और मंत्री पद अब भी दूर बना हुआ है

भाजपा का कहना है कि कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न परिस्थिति की समय-समय पर समीक्षा और सरकार के साथ समन्वय तथा संगठन की अधिक सक्रियता बढ़ाने की दृष्ट्री से विशेष कार्यदल का गठन किया गया है। जिसमें प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा को संयोजक बनाया गया है। सोमवार शाम भाजपा प्रदेश कार्यालय मंत्री सतेन्द्र भूषण सिंह द्वारा जारी किए गए पत्र के माध्यम से इसकी  सूचना दी गई। इस विशेष कार्यदल में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष  विष्णु दत्त शर्मा, संयोजक, के अलावा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत,राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, पूर्व नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा, राजेन्द्र शुक्ला, श्रीमती मीना सिंह, जगदीश देवड़ा और सिंधिया समर्थक पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट को शामिल किया गया है।  





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।