विवेक अग्निहोत्री के बयान के बाद कांग्रेस ने किया प्रदर्शन, डायरेक्टर ने सफाई में कही ये बात

विवेक अग्निहोत्री के बयान के बाद कांग्रेस ने किया प्रदर्शन, डायरेक्टर ने सफाई में कही ये बात

होमोसेक्सुअल वाले बयान वाले बयान पर विवेक अग्निहोत्री ने कहा कि एक यार दोस्त के साथ बैठकर अलग बातें होती है। मैं झूठ नहीं बोलूंगा। पूरा इंटर्व्यू अलग कॉंटेक्स्ट में है। किसी भी चीज़ को तोड़ मरोड़ के पेश किया जाता है।

भोपाल। द कश्मीर फाइल्स के डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री के भोपाली यानी होमोसेक्सुअल वाले बयान पर सियासी बवाल थमने का नाम नही ले रहा है। इस बयान के बाद भोपाल में कांग्रेस और एनएसयूआई ने विरोध प्रदर्शन किया। इसी बीच माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में चित्र भारती फिल्म फेस्टिवल में विवेक अग्निहोत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

दरअसल होमोसेक्सुअल वाले बयान वाले बयान पर विवेक अग्निहोत्री ने कहा कि एक यार दोस्त के साथ बैठकर अलग बातें होती है। मैं झूठ नहीं बोलूंगा। पूरा इंटर्व्यू अलग कॉंटेक्स्ट में है। किसी भी चीज़ को तोड़ मरोड़ के पेश किया जाता है। ये इसलिए हो रहा है, क्योंकि कश्मीर की सच्चाई लोग सामने नहीं आने देते।

इसे भी पढ़ें:सिर्फ ‘द कश्मीर फाइल्स’ ही नहीं, गुजरात फाइल्स के बारे में भी बात होनी चाहिए : सुशील कुमार शिंदे 

उन्होंने कहा कि पूरा इंटरव्यू अलग है। आप जाकर वीडियो देखिए। कांग्रेसी को प्रदर्शन करने दीजिए। मेरा बॉलीवुड से कोई नाता नहीं है। मैं उस दलदल में फंसना नहीं चाहता हूं। मैं कभी भी वोट बैंक पॉलिटिक्स का हिस्सा नहीं बनूंगा।

वहीं आईएएस नियाज खान के ट्वीट पर विवेक ने कहा कि सब राजनीति कर रहे है करने दीजिए। नियाज खान ने कहा था कि मैं एक आईएएस अधिकारी हूं। मैं किसी डायरेक्टर से मिलने नहीं जाऊंगा। जिसको मेरे से मिलना है, वो मंत्रालय आकर मिल सकता है।

इसे भी पढ़ें:गेंहू के खरीद सीजन को उचित ढंग से पूरा करने के लिए विभाग पूरी तरह तैयार : लाल चंद कटारूचक्क 

आपको बता दें कि भोपाल में कांग्रेस और एनएसयूआई ने उग्र प्रदर्शन किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विवेक अग्निहोत्री की फ़ोटो जलाकर जूते-चप्पल से तस्वीर की पिटाई की। उन्होंने कहा कि विवेक अग्निहोत्री ने भोपाल की जनता का अपमान किया है। विवेक अग्निहोत्री माफी मांगें, नहीं प्रदर्शन जारी रहेगा। सरकारी कानूनी कार्रवाई करें, नहीं तो हम Fir दर्ज करवाने जाएंगे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।