कंगना रनौत को कांग्रेस विधायक ने कहा नाचने गाने वाली, दिग्विजय बोले-कौन हैं कंगना ?

कंगना रनौत को कांग्रेस विधायक ने कहा नाचने गाने वाली, दिग्विजय बोले-कौन हैं कंगना ?

उन्होंने कलेक्टर से कहा था कि कंगना जैसी नाचने-गाने वाली महिला यदि किसानों के स्वाभिमान को ठेस पहुंचा रही है और इसके विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ता खड़े होते हैं, तो पुलिस उन पर लाठीचार्ज करती है। पुलिस कठपुतली न बने, एक महिला के चक्कर में पुलिस ने कांग्रेसियों पर बहुत ज्यादा लाठीचार्ज किया है।

भोपाल।  फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत इन दिनों मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में फिल्म धाकड़ की शूटिंग कर रही हैं, लेकिन किसान आंदोलन को लेकर किए गये ट्वीट के बाद वे यहां कांग्रेस के निशाने पर आ गई हैं। कांग्रेस विधायक सुखदेव पांसे ने कंगना को लेकर विवादित टिप्पणी करते हुए उन्होंने नाचने गाने वाली बता दिया, तो वहीं वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने यहां तक कह दिया है कंगना कौन हैं ?

 

इसे भी पढ़ें: शिवराज जी सरकार चला रहे है या सर्कस, प्रदेश में नहीं रूक रहे महिला अपराध और माफिया का दखल- जीतू पटवारी

गौरतलब है कि कंगना रनौत ने गत दिनों किसान आंदोलन को लेकर ट्वीट करते हुए आंदोलनकारियों को आंतकवादी बताया था। इसको लेकर बैतूल जिले में कांग्रेस लगातार कंगना के विरोध में धरने-प्रदर्शन कर रही है। बीते गुरुवार को कांग्रेस द्वारा किसान जागृति यात्रा निकालकर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा था ? इस दौरान कांग्रेस की कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे मुलताई विधायक सुखदेव पांसे ने अभिनेत्री कंगना को नाचने गाने वाली बताया था।

 

इसे भी पढ़ें: भाजपा कार्यकर्ता को ब्लेकमेल करने वाला कथित पत्रकार और उसकी महिला सहयोगी गिरफ्तार, कोर्ट ने भेजा जेल

उन्होंने कलेक्टर से कहा था कि कंगना जैसी नाचने-गाने वाली महिला यदि किसानों के स्वाभिमान को ठेस पहुंचा रही है और इसके विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ता खड़े होते हैं, तो पुलिस उन पर लाठीचार्ज करती है। पुलिस कठपुतली न बने, एक महिला के चक्कर में पुलिस ने कांग्रेसियों पर बहुत ज्यादा लाठीचार्ज किया है। वही कांग्रेस विधायक सुखदेव पांसे की कंगना के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी को लेकर शनिवार को पत्रकारों ने पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह से प्रतिक्रिया लेनी चाही तो उन्होंने जवाब दिया कि ये कंगना कौन है? इतना कहकर वे आगे चले गए। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...