इलेक्टोरल बॉण्ड चुनाव खर्च में पारदर्शिता लाने का प्रयास, कांग्रेस के आरोप बेबुनियाद: भाजपा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 22, 2019   16:13
इलेक्टोरल बॉण्ड चुनाव खर्च में पारदर्शिता लाने का प्रयास, कांग्रेस के आरोप बेबुनियाद: भाजपा

भाजपा उपाध्यक्ष बैजयंत पांडा ने कहा कि यह भ्रष्ट स्रोत या आतंकी फंडिंग का पैसा नहीं होता है। इसके स्रोत का पता लगाया जा सकता है। पांडा ने दावा किया कि पहले ऐसे उदाहरण सामने आए हैं जहां धन शोधन, काला धन और सूटकेस से पैसा पहुंचाया जाता रहा है।

नयी दिल्ली। भाजपा ने चुनावी बॉण्ड को चुनाव खर्च में पारदर्शिता लाने की महत्वपूर्ण पहल करार देते हुए शुक्रवार को कहा कि यह कर का भुगतान करके प्राप्त की गयी चंदे की राशि है जिसके स्रोत का पता लगाया जा सकता है, ऐसे में कांग्रेस को बेबुनियाद आरोप लगाना बंद करना चाहिए। भाजपा उपाध्यक्ष बैजयंत पांडा ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘ चुनावी बॉण्ड से चुनाव खर्च में पारदर्शिता आई है और व्यवस्था बेहतर बनी है। इसके जरिये आने वाला चंदा वैध स्रोत से प्राप्त होता है और इसमें कर का भुगतान किया गया होता है।’’

इसे भी पढ़ें: चुनावी बॉण्ड का सिर्फ वही लोग विरोध कर रहे हैं, जो काले धन में विश्वास करते हैं: पीयूष गोयल

उन्होंने कहा कि यह भ्रष्ट स्रोत या आतंकी फंडिंग का पैसा नहीं होता है। इसके स्रोत का पता लगाया जा सकता है।  पांडा ने दावा किया कि पहले ऐसे उदाहरण सामने आए हैं जहां धन शोधन, काला धन और सूटकेस से पैसा पहुंचाया जाता रहा है। कांग्रेस के भ्रष्टाचार के आरोप के बारे में पूछे जाने पर भाजपा नेता ने कहा कि जब सूटकेस से या धन शोधन का पैसा उपयोग होता था, तब भ्रष्टाचार नहीं था और जब कर का भुगतान करके चुनावी खर्च में पारदर्शी ढंग से पैसे के उपयोग को बढ़ावा मिल रहा है तब कैसे भ्रष्टाचार होगा?

इसे भी पढ़ें: चुनावी बॉण्ड और BPCL के विनिवेश मुद्दे को लेकर कांग्रेस का लोकसभा में हंगामा

उन्होंने कहा कि कांग्रेस को बेबुनियाद आरोप लगाने की बजाए अगर उसके पास कुछ सुझाव है तो देना चाहिए। गौरतलब है कि आरबीआई और चुनाव आयोग द्वारा चुनावी बॉण्ड का विरोध किये जाने की रिपोर्ट के बाद इस विषय पर विवाद उत्पन्न हो गया है जहां कांग्रेस ने सरकार को संसद के भीतर और बाहर घेरने का प्रयास किया है। वहीं भाजपा का कहना है कि यह ईमानदारी वाले धन को चुनावी राजनीति में लाने का प्रयास है। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।