मध्य प्रदेश में रात्रि कर्फ्यू को लेकर गृहमंत्री का बड़ा बयान, महाराष्ट्र से सटे 12 जिलों के लिए अलर्ट जारी

मध्य प्रदेश में रात्रि कर्फ्यू को लेकर गृहमंत्री का बड़ा बयान, महाराष्ट्र से सटे 12 जिलों के लिए अलर्ट जारी

उन्होंने कहा है कि कोरोना के नए मामलों को देखते हुए नाइट कर्फ्यू का फैसला सरकार उन जिलों की क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी का विचार सामने आने के बाद निर्णय लेगी। मंत्री ने कहा कि प्रदेश में महाराष्ट्र से सटे 12 जिलों के लिए ही अलर्ट जारी किया गया है।

भोपाल। मध्य प्रदेश में एक बार फिर कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है जिसको लेकर प्रदेश सरकार आने वाले दिनों में कड़े कदम उठाने पर विचार कर रही है। पिछले कुछ दिनों में प्रदेश में एकदम से कोरोना संक्रमितों की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है। जिसको लेकर शासन प्रशासन सतर्कता बरतने में लग गई है। इस बीच रात्रि कफ्यू लगाए जाने को लेकर प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि कोरोना के नए मामलों को देखते हुए नाइट कर्फ्यू का फैसला सरकार उन जिलों की क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी का विचार सामने आने के बाद निर्णय लेगी। मंत्री ने कहा कि प्रदेश में महाराष्ट्र से सटे 12 जिलों के लिए ही अलर्ट जारी किया गया है।

 

इसे भी पढ़ें: भाजपा विधायक ने अपनी ही सरकार को घेरा, गेंहू-खाद घोटाले पर किया मंत्री से सवाल

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि नाइट कर्फ्यू के संबंध में शुक्रवार को बैठक में निर्णय किया जाएगा। इंदौर, भोपाल के अतिरिक्त सीमावर्ती 12 जिलों पर केन्द्रीत रहेगा। उन्होंने कहा कि थर्मल स्क्रीनिंग के निर्देश दे दिए गए हैं। प्रदेश की जनता का स्वास्थ्य पहली प्राथमिकता है। सरकार ने कोरोना के उपचार के लिए निजी और शासकीय अस्पतालों में मुफ्त उपचार  किए जाने की व्यवस्था की थी। फ्री फॉर ऑल कोरोना की गाइडलाइन का पालन करवाने में कोई भेदभाव नहीं किया जाएगा।वही विधायक और मंत्रीयों के मास्क लगाने पर उन्होंने कहा कि सभी माननीय है सभी को समान रुप से पालन करना होगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।