ड्रग्स केस: कैलाश विजयवर्गीय का बड़ा आरोप, कहा- दाऊद इब्राहिम के प्रभाव में काम कर रहे महाराष्ट्र के मंत्री

ड्रग्स केस: कैलाश विजयवर्गीय का बड़ा आरोप, कहा- दाऊद इब्राहिम के प्रभाव में काम कर रहे महाराष्ट्र के मंत्री

महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) के अधिकारी समीर वानखेड़े पर गैरकानूनी रूप से फोन टैप करने का आरोप लगाया और कहा कि वह अधिकारियों के ‘गलत कार्यों’ पर एक पत्र एजेंसी के प्रमुख को सौंपेंगे।

शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की गिरफ्तारी के बाद एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक के निशाने पर हैं। एक बार फिर से नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि एनसीबी अधिकारी का जीवन फर्जीवाड़े से भरा है। नवाब मलिक ने कहा कि फर्जी कागजात के आधार पर समीर वानखेडे अधिकारी बने उन्होंने एक दलित का हक मारा है। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रोनिक जांच में कई चीजें सामने आ जाएंगी। कई गवाहों के कॉल डिटेल की भी जांच होनी चाहिए। नवाब मलिक ने मांग की कि मालदीव के दौरे को भी देखा जाना चाहिए। वहीं पलटवार में भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने आरोप लगाया कि गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम का प्रभाव महाराष्ट्र सरकार के मंत्रियों पर है।

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि एनसीपी के नवाब मलिक द्वारा एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े के खिलाफ लगाए गए आरोप बताते हैं कि केंद्र सरकार का कोई भी ईमानदार अधिकारी महाराष्ट्र में काम नहीं कर सकता है। दाऊद इब्राहिम हमारे देश में नहीं है, लेकिन उसका प्रभाव महाराष्ट्र सरकार के मंत्रियों पर है। महाराष्ट्र में एलओपी देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि अधिकारियों को धमकाना सही नहीं है। अगर गवाहों की विश्वसनीयता को नष्ट करने की कोशिश की गई तो कोई भी गवाह बनने के लिए आगे नहीं आएगा। हालांकि अगर अधिकारियों के खिलाफ आरोप लगाए गए हैं तो एनसीबी को भी जांच करनी चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: Prabhasakshi's NewsRoom । नीतीश बोले- लालू चाहें तो गोली मरवा दें, नवाब मलिक पर भाजपा का हमला

उससे पहले महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) के अधिकारी समीर वानखेड़े पर गैरकानूनी रूप से फोन टैप करने का आरोप लगाया और कहा कि वह अधिकारियों के ‘गलत कार्यों’ पर एक पत्र एजेंसी के प्रमुख को सौंपेंगे। मलिक ने कहा, ‘‘समीर वानखेड़े मुंबई और ठाणे के दो लोगों के जरिए कुछ लोगों के मोबाइल फोन पर गैरकानूनी तरीके से नजर रख रहे हैं।’’ 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।