मधुसूदन मिस्त्री बोले, कोई भी कांग्रेस का आधिकारिक उम्मीदवार नहीं, सभी अपने दम पर लड़ रहे चुनाव

Madhusudan Mistry
ANI
अंकित सिंह । Sep 30, 2022 5:08PM
कांग्रेस के केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री ने कहा कि मल्लिकार्जुन खड़गे द्वारा 14 फॉर्म, शशि थरूर द्वारा 5 और केएन त्रिपाठी द्वारा 1 फॉर्म जमा किए गए। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि शनिवार को हम फॉर्मों की जांच करेंगे और कल ही शाम हम उन फॉर्मों और उम्मीदवारों के नाम की घोषणा करेंगे जो वैध हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष पद के आज तीन नामांकन दाखिल हुए हैं। आज नामांकन की आखिरी तारीख थी। ऐसे में तीन ही उम्मीदवार फिलहाल मैदान में दिखाई दे रहे हैं। पहला नाम शशि थरूर का है जबकि दूसरा नाम मल्लिकार्जुन खड़गे और तीसरा केएन त्रिपाठी का है। कांग्रेस के केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री ने कहा कि मल्लिकार्जुन खड़गे द्वारा 14 फॉर्म, शशि थरूर द्वारा 5 और केएन त्रिपाठी द्वारा 1 फॉर्म जमा किए गए। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि शनिवार को हम फॉर्मों की जांच करेंगे और कल ही शाम हम उन फॉर्मों और उम्मीदवारों के नाम की घोषणा करेंगे जो वैध हैं।  

इसे भी पढ़ें: शशि थरूर के मेनिफेस्टो में दिखा जम्मू कश्मीर का आधा हिस्सा! बाद में किया सही, कांग्रेस अध्यक्ष पद का लड़ रहे हैं चुनाव

मधुसूदन मिस्त्री ने इस बात का भी दावा किया कि कोई भी पार्टी का आधिकारिक उम्मीदवार नहीं है। अपने बयान में उन्होंने कहा कि इन 3 में से कोई भी पार्टी का आधिकारिक उम्मीदवार नहीं है। वे अपने दम पर चुनाव लड़ रहे हैं। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने स्पष्ट कर दिया है कि वह पूरी प्रक्रिया में तटस्थ रहेंगी और अगर कोई दावा करता है कि उनके पास उनका आशीर्वाद है, तो यह गलत है। आपको बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए 17 अक्टूबर को चुनाव होंगे जबकि नतीजे 19 अक्टूबर को आएंगे। हालांकि दावा किया जा रहा है कि मल्लिकार्जुन खड़गे को गांधी परिवार का समर्थन हासिल है। वहीं, शशि थरूर बार-बार इस बात की आलोचना कर रहे हैं कि खड़गे के बारे में ऐसा क्यों कहा जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: गांधी परिवार कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में किसी का ‘प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष’ नहीं कर रहा समर्थन

थरूर ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने मुझे आश्वासन दिया कि पार्टी का कोई आधिकारिक उम्मीदवार नहीं है, गांधी परिवार इस दौड़ में तटस्थ रहेगा और वे अधिक से अधिक उम्मीदवारों का स्वागत करते हैं। इसी भावना से मैंने अपनी उम्मीदवारी को आगे बढ़ाया। यह किसी का अनादर नहीं करना है; एक दोस्ताना प्रतियोगिता है। उन्होंने कहा कि खड़गे साहब का बहुत सम्मान करता हूं। अगर कई लोग नामांकन दाखिल करेंगे तो अच्छी बात है और लोगों को भी विकल्प मिलेगा। मैंने किसी को नीचा दिखाने के लिए ऐसा नहीं किया है। हमें एक साथ काम करने की जरूरत है। मुझे लगता है कि वे हमारी पार्टी के भीष्म पितामह हैं।

अन्य न्यूज़