मोदी बोले- पश्चिम से पूरब तक घोर परिवारवादियों को यूपी की जनता ने नकारा, 10 मार्च को रंगों वाली होली मनाएंगे

मोदी बोले- पश्चिम से पूरब तक घोर परिवारवादियों को यूपी की जनता ने नकारा, 10 मार्च को रंगों वाली होली मनाएंगे

वाराणसी से सांसद ने कहा कि बलिया से मेरा एक भावुक रिश्ता ये भी है कि यहीं पर माताओं बहनों की जिंदगी बदलने वाली उज्ज्वला योजना की शुरुआत हुई थी। आज देश में 9 करोड़ से ज्यादा महिलाओं को जो मुफ्त गैस कनेक्शन मिला है, उसकी दिशा यहीं हमारे बलिया ने देश को दिखाई थी।

उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर प्रचार लगातार जारी है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बलिया पहुंचे थे जहां उन्होंने एक चुनावी सभा को संबोधित किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यूपी में 5 चरण के चुनाव हो चुके हैं। पश्चिम से पूरब तक घोर परिवारवादियों को यूपी की जनता ने नकार दिया है। यूपी के लोगों ने बता दिया है कि यूपी की गाड़ी अब जात-पात की गलियों में अटकने वाली नहीं है। उसने विकास के हाइवे पर रफ्तार पकड़ ली है। उन्होंने कहा कि जाति से ऊपर उठकर राष्ट्र हित का सम्मान और परिवारवाद का विरोध ही तो बलिया की परिभाषा है। बलिया, पूर्वांचल और उत्तर प्रदेश का विकास मेरा कर्तव्य भी है और मेरी प्राथमिकता भी है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा कि घोर परिवारवादियों ने यूपी की कानून व्यवस्था को बर्बाद कर दिया था। योगी आदित्यनाथ की सरकार इसे वापस पटरी पर ला रही है। उन्होंने कहा कि योगी जी की सरकार 10 मार्च को फिर से बनेगी। आप 10 मार्च को रंगों वाली होली मनाएंगे। और उसके तुरंत बाद फिर से तेज गति से जरूरतमंदों तक इन सारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने का काम किया जाएगा।

मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश ने मुझे बहुत कुछ दिया है। इसलिए इस धरती की संतान के नाते गरीब से गरीब की सेवा ये संकल्प लेकर मैं चल पड़ा हूं। आज पूर्वांचल समेत पूरे प्रदेश में सड़क हो, अस्पताल हो, बिजली हो विकास के हर काम पर ध्यान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बलिया के हमारे व्यापारी और कारोबारी भूल नहीं सकते कि कैसे उनका पैसा गुंडे और बदमाश छीनकर ले जाते थे। योगी जी की सरकार में आज बलिया का व्यापारी सुरक्षित हो रहा है, यहां की बहनों बेटियों को घर से निकलने में गुंडे, बदमाशों का डर नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने बीते 5 वर्षों में यहां अनेकों नई सड़कें बनवाई हैं, सड़कों को चौड़ा करने का काम भी तेजी से चल रहा है। बलिया के लोगों ने तो बिजली के अभाव में कितना खामियाजा भुगता है, बलिया के इस दर्द को मैं समझता हूं।

इसे भी पढ़ें: चांदी की चम्मच के साथ पैदा हुए लोग उड़ाते हैं PM मोदी का मजाक, नड्डा बोले- यह सिर्फ विधायक बनाने का नहीं है चुनाव

वाराणसी से सांसद ने कहा कि बलिया से मेरा एक भावुक रिश्ता ये भी है कि यहीं पर माताओं बहनों की जिंदगी बदलने वाली उज्ज्वला योजना की शुरुआत हुई थी। आज देश में 9 करोड़ से ज्यादा महिलाओं को जो मुफ्त गैस कनेक्शन मिला है, उसकी दिशा यहीं हमारे बलिया ने देश को दिखाई थी। उन्होंने कहा कि गरीब के पास भी पक्का घर हो, इसके लिए भी हमारी सरकार ने पीएम आवास योजना शुरू की है। इस योजना के तहत यहां उत्तर प्रदेश में 34 लाख से ज्यादा पक्के घर गरीबों को बनाकर दिए हैं। यहां बलिया में भी हजारों गरीबों को पक्के घर दिए गए हैं। मोदी ने कहा कि जब बच्चा मां के गर्भ में होता है, तो वो कुपोषण का शिकार न हो इसके लिए हमारी सरकार गर्भवती माताओं के लिए मातृ वंदना योजना चला रही है। इस योजना के अंतर्गत गर्भवती माताओं के खातों में सीधे 10 हजार करोड़ रुपये से अधिक ट्रांसफर किये गए हैं।

इसे भी पढ़ें: J&K में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, गुलाम नबी आजाद के भतीजे ने थामा भाजपा का दामन

मोदी ने कहा कि हमारे देश में किसानों की बात करने वाले तो बहुत हो गए। लेकिन क्या कभी किसानों की बात करते समय किसी ने भी छोटे किसान की बात कही है क्या? उसके लिए कोई बोलता है क्या? उन्होंने कहा कि छोटे किसानों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए हमारी सरकार ने पीएम किसान सम्मान निधि योजना चलाई है। यहां बलिया के भी करीब 5 लाख किसानों के खातों में सीधे 700 करोड़ रुपये से ज्यादा जमा किए जा चुके हैं। मोदी ने कहा कि 60 साल की आयु के बाद मजदूरों, किसानों, छोटे दुकानदारों सबकों 3,000 रुपये मासिक पेंशन मिले। इसके लिए भाजपा सरकार ने अनेक योजनाएं शुरू की है। मैं ये योजनाएं इसलिए कर पा रहा हूं क्योंकि यहां योगी जी की डबल इंजन की सरकार है। तो मैं दिल्ली से जो भेजता हूं वो रोड़े नहीं अटकाते और उन योजनाओं का लाभ सीधे लाभार्थियों तक पहुंचता है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।