धरना देकर समय खराब ना करें किसान, नरेश टिकैत बोले- बीजेपी की तरफ लोगों का झुकाव, हम क्या करें

धरना देकर समय खराब ना करें किसान, नरेश टिकैत बोले- बीजेपी की तरफ लोगों का झुकाव, हम क्या करें
ANI pictures

नरेश टिकैत ने भाजपा को लेकर भी बड़ा बयान दिया। नरेश टिकैत ने साफ तौर पर कहा कि लोगों का झुकाव भाजपा की तरफ हो रहा है तो हम क्या करें। यह उनकी मर्जी है। वह जहां भी वोट डालना चाहते हैं, वह ऐसा कर सकते हैं।

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ लगभग 1 साल तक किसान आंदोलन चला। इस किसान आंदोलन में भारतीय किसान यूनियन की अहम भूमिका रही। इन सबके बीच भारतीय किसान यूनियन के प्रमुख नरेश टिकैत ने फिलहाल बड़ा बयान दिया है। नरेश टिकैत भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता और किसान नेता राकेश टिकैत के बड़े भाई हैं। उन्होंने किसानों से अपील करते हुए कहा कि वह धरना प्रदर्शन कर अपना समय बर्बाद ना करें। अपनी समस्याओं का समाधान जिला प्रशासन के लोगों के साथ बैठकर कर लें। नरेश टिकैत ने यह भी कहा कि किसान यूनियन में अनुशासन बनाए रखने की जिम्मेदारी हम सब की है।

इसके साथ ही नरेश टिकैत ने भाजपा को लेकर भी बड़ा बयान दिया। नरेश टिकैत ने साफ तौर पर कहा कि लोगों का झुकाव भाजपा की तरफ हो रहा है तो हम क्या करें। यह उनकी मर्जी है। वह जहां भी वोट डालना चाहते हैं, वह ऐसा कर सकते हैं। इसके साथ नरेश टिकैत ने कहा कि ना तो हम इससे खुश हैं और ना ही दुखी हैं।। यह एक स्वतंत्र देश है और यहां सब को निर्णय लेने का अधिकार है दरअसल, नरेश टिकैत 4 राज्यों में भाजपा की हुई जीत पर अपने विचार रख रहे थे। इसके साथ ही नरेश टिकैत ने कहा कि बदले की भावना से काम ना हो। बुलडोजर का प्रयोग वही किया जाए जहां अवैध अतिक्रमण है।

इसे भी पढ़ें: बुलडोजर से लड़ेगा ट्रैक्टर! राकेश टिकैत बोले- संविधान अलमारी में बंद, एक विशेष धर्म के लोगों पर हो रही कार्रवाई

माना जा रहा है कि 4 राज्यों में भाजपा को मिली जीत के बाद भारतीय किसान यूनियन में थोड़ी नरमी आई है। यही कारण है कि नरेश टिकैत फिलहाल किसानों को बातचीत के जरिए रास्ता निकालने की बात करते दिखाई दे रहे हैं। वह साफ तौर पर कह रहे हैं कि धरना प्रदर्शन करके किसान अपना समय बर्बाद ना करें। उन्होंने कहा कि स्थानीय प्रशासन से बात करें और इससे समाधान निकालने की कोशिश करें। इसके साथ ही नरेश टिकैत उत्तराखंड के उधम सिंह नगर में होने वाले किसान महापंचायत में भी शामिल होंगे। उन्होंने यूनियन के कार्यकर्ताओं से उत्तर प्रदेश के रामपुर में मुलाकात की है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।