आंध्र प्रदेश में बारिश के कारण फसलों का हुआ भारी नुकसान, 10 हजार से ज्यादा लोगों को राहत शिविर पहुंचाया गया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 28, 2020   10:28
आंध्र प्रदेश में बारिश के कारण फसलों का हुआ भारी नुकसान, 10 हजार से ज्यादा लोगों को राहत शिविर पहुंचाया गया

अधिकारियों ने बताया कि स्वर्णमुखी, भीमा और पेन्ना नदियों के उफान पर रहने के साथ ही अन्य मध्यम एवं छोटे जलाशयों के भी लबालब होने के चलते कई स्थानों से संपर्क टूट गया। बाढ़ के कारण 180 किलोमीटर से अधिक की सडकें क्षतिग्रस्त हो गईं।

अमरावती। चक्रवात निवार के कारण पिछले दो दिनों में हुई भारी बारिश के कारण आंध्र प्रदेश में करीब 30,000 हेक्टेयर में लगी फसलें क्षतिग्रस्त हो गईं। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बारिश संबंधी घटनाओं के कारण मरने वालों की संख्या शुक्रवार को बढ़कर तीन तक पहुंच गई जबकि एसपीएस नेल्लोर और चित्तूर जिलों में 10,000 से भी अधिक लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया गया है। अधिकारियों ने बताया कि स्वर्णमुखी, भीमा और पेन्ना नदियों के उफान पर रहने के साथ ही अन्य मध्यम एवं छोटे जलाशयों के भी लबालब होने के चलते कई स्थानों से संपर्क टूट गया। बाढ़ के कारण 180 किलोमीटर से अधिक की सडकें क्षतिग्रस्त हो गईं। 

इसे भी पढ़ें: PM मोदी ने चक्रवात निवार को लेकर तमिलनाडु के मुख्यमंत्री से की बात, मुआवजे का किया ऐलान 

उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय एवं राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल और पुलिसकर्मियों ने जलमग्न हो चुके कई गावों से लोगों को सुरक्षित निकाला। राज्य मंत्रिमंडल ने शुक्रवार को बैठक कर स्थिति का जायजा लिया और मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने राहत शिविरों में आश्रय लेने वाले प्रत्येक व्यक्ति के लिए 500 रुपये की आर्थिक सहायता की घोषणा की।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।