राहुल गांधी का तंज, मोदी जी जब रुपया गिरा था तब आप मनमोहन जी की आलोचना करते थे, मैं आँख बंद करके...

राहुल गांधी का तंज, मोदी जी जब रुपया गिरा था तब आप मनमोहन जी की आलोचना करते थे, मैं आँख बंद करके...
ANI

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा। अपने ट्वीट में राहुल गांधी ने लिखा कि मोदी जी जब रुपया गिरा था तो आप मनमोहन जी की आलोचना करते थे। अब रुपया अपने अब तक के सबसे कम स्तर पर है। लेकिन मैं आँख बंद करके आपकी आलोचना नहीं करूँगा।

भारतीय रुपए में गिरावट लगातार जारी है। सोमवार को विदेशी बाजारों में अमेरिकी मुद्रा की मजबूती के चलते रूपया शुरूआती कारोबार में अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले 52 पैसे की गिरावट के साथ सर्वकालिक निचले स्तर 77.42 पर आ गया। अब इसको लेकर विपक्ष ने मोदी सरकार पर निशाना साधना शुरू कर दिया है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा। अपने ट्वीट में राहुल गांधी ने लिखा कि मोदी जी जब रुपया गिरा था तो आप मनमोहन जी की आलोचना करते थे। अब रुपया अपने अब तक के सबसे कम स्तर पर है। लेकिन मैं आँख बंद करके आपकी आलोचना नहीं करूँगा।

इसे भी पढ़ें: किसानों से किए गए वादे अब तक नहीं हुए पूरे, MSP पर कानून बनाए सरकार: सत्यपाल मलिक

इसके साथ ही राहुल ने आगे कहा कि रुपया गिरना निर्यात के लिए अच्छा है बशर्ते हम निर्यातकों को पूंजी के साथ समर्थन दें और रोजगार सृजित करने में मदद करें। उन्होंने तंज भरे लहजे में कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था के प्रबंधन पर ध्यान दें, न कि मीडिया की सुर्खियों पर। इससे पहले राहुल ने फेसबुक पोस्ट में कहा था कि डॉलर के मुकाबले रुपये की कीमत 77.4 रुपये के अपने न्यूनतम स्तर पर पहुंच गई है। प्रधानमंत्री पहले ही पेट्रोल और डीजल के दाम 100 रुपये से अधिक तथा एलपीजी के दाम 1000 रुपये से अधिक करने का लक्ष्य हासिल कर चुके हैं। अब रुपये के 100 की तरफ बढ़ने की बारी है। उन्होंने दावा किया कि भारत गंभीर आर्थिक संकट से घिरा हुआ है। आने वाले समय में यह संकट और गहराएगा तथा ऐसी स्थिति पैदा होगी जो भारतीय नागरिकों ने पहले कभी नहीं देखी होगी।

इसे भी पढ़ें: 800 हिंदू परिवारों को वापस लौटना पड़ा पाकिस्तान, सुब्रमण्यम स्वामी ने केंद्र पर साधा निशाना, कही यह अहम बात

कांग्रेस नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री भारत की आर्थिक और सामाजिक वास्तविकताओं को छिपाकर नहीं रख सकते। अब समय आ गया है कि हालात को स्वीकार किया जाए और प्रचार के जरिये ध्यान भटकाने की बजाय समाधान की दिशा में काम किया जाए। वहीं, पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा कि देश में 75 साल में पहली बार डॉलर के मुकाबले रुपये की कीमत 77.41 रुपये के न्यूनतम स्तर पर चली गई। 75 साल में पहली बार रुपया आईसीयू में है और भाजपा के मार्गदर्शमंडल की तय आयु को भी पार कर गया है। प्रधानमंत्री की आयु को तो वह पहले ही पार चुका है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।