सचिन पायलट के फॉर्मूले पर लगी मुहर, राजस्थान में युवाओं को प्रतिनिधित्व देने वाले प्रस्ताव पर शुरू हुआ काम, राहुल का जताया आभार

Sachin Pilot
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
चिंतन शिविर में 50 फीसदी पद 50 साल से कम उम्र के कार्यकर्ताओं को दिए जाने के प्रस्ताव पर मुहर लगी और इसे लागू करने के निर्देश दिए जा चुके हैं। राजस्थान में कांग्रेस की जिला कार्यकारिणी के गठन में इस फॉर्मूल को लागू करने को लेकर जोरो-शोरो से काम चल रहा है।

जयपुर। राजस्थान के उदयपुर में हुए तीन दिवसीय नव चिंतन शिविर में कांग्रेस के पुर्नउद्धार का खांका तैयार किया गया। जिसे तेजी से लागू भी किया जाने लगा है। चिंतन शिविर में 50 फीसदी पद 50 साल से कम उम्र के कार्यकर्ताओं को दिए जाने के प्रस्ताव पर मुहर लगी और इसे लागू करने के निर्देश दिए जा चुके हैं। राजस्थान में कांग्रेस की जिला कार्यकारिणी के गठन में इस फॉर्मूल को लागू करने को लेकर जोरो-शोरो से काम चल रहा है। 

इसे भी पढ़ें: राहुल ने किया 132 करोड़ के पुल का शिलान्यास, कहा- बीजेपी आदिवासियों को मिटाने का कर रही काम 

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान समेत कई राज्यों में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में कांग्रेस कोई भी गलती नहीं करना चाहती है। क्योंकि पार्टी के पास पूर्ण रूप से राजस्थान और छत्तीसगढ़ की ही सत्ता है और हाल ही के चुनावों में कांग्रेस ने पंजाब को गंवा दिया था। इसके अलावा पार्टी को किसी और राज्य में सरकार बनाने में भी कामयाबी नहीं मिली।

राजस्थान में लागू होगा फॉर्मूला

राजस्थान कांग्रेस प्रमुख गोविंद सिंह डोटासरा ने पार्टी के जिलाध्यक्षों को इस संबंध में निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि वे नव संकल्प शिविर में पारित प्रस्तावों का पालन करते हुए जिला कार्यकारणी के 50 फीसदी पदों पर 50 साल से कम उम्र के कांग्रेस कार्यकर्ताओं, महिलाओं और अल्पसंख्यक, ओबीसी, अनुसूचित जाति एवं जनजाति समुदाय के सदस्यों को न्याय संगत प्रतिनिधित्व देते हुए अगले 3 दिनों में एक प्रस्ताव प्रदेश कांग्रेस कमेटी को भेजवाएं।

पायलट ने राहुल का जताया आभार

प्राप्त जानकारी के मुताबिक पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कांग्रेस चिंतन शिविर में लिए गए फैसले के लिए राहुल गांधी का आभार जताया। उन्होंने एक जनसभा में कहा कि नौजवानों के लिए रखी गई अहम भूमिकाओं के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं की तरफ से राहुल जी को धन्यवाद। 

इसे भी पढ़ें: दंगो के पीछे RSS-BJP का हाथ, अशोक गहलोत बोले- हम किसी को छोड़ेंगे नहीं 

गौरतलब है कि कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने नव चिंतन शिविर में युवा कार्ड पर दांव लगाया था। जिसे पार्टी ने स्वीकार कर लिया है और इस संबंध में निर्देश भी जारी किए जा चुके हैं। राजस्थान के कई जिलों में कांग्रेस जिला अध्यक्षों के पद काफी समय से खाली हैं। ऐसे में विधानसभा चुनाव से पहले न सिर्फ इन पदों को भरा जाएगा बल्कि जनता से सीधे जुड़ाव की कोशिश की जाएगी।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़