CM ममता बनर्जी के आवास पर सुरक्षा में चूक हुई, आवास में घुसने वाला गिरफ्तार

mamata
creative common
रविवार सुबह सुरक्षाकर्मियों ने आरोपी को पकड़ कर पुलिस के हवाले किया। पुलिस ने यह जानकारी दी। इस घटना के सामने आने के बाद मुख्यमंत्री के निजी आवास की सुरक्षा को लेकर सवाल खड़ा हो गया है कि आरोपी कैसे इतने व्यापक सुरक्षा घेरे के बावजूद घर में घुस गया और बिना किसी की जानकारी के पूरी रात आवास में ही रहा।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के दक्षिणी कोलकाता के कालीघाट स्थित आवास में एक व्यक्ति अवैध रूप से प्रवेश कर गया और लगभग पूरी रात आवास में ही छिपा रहा। रविवार सुबह सुरक्षाकर्मियों ने आरोपी को पकड़ कर पुलिस के हवाले किया। पुलिस ने यह जानकारी दी। इस घटना के सामने आने के बाद मुख्यमंत्री के निजी आवास की सुरक्षा को लेकर सवाल खड़ा हो गया है कि आरोपी कैसे इतने व्यापक सुरक्षा घेरे के बावजूद घर में घुस गया और बिना किसी की जानकारी के पूरी रात आवास में ही रहा। पुलिस ने कहा कि आरोपी एक दीवार पर चढ़कर हरीश चटर्जी स्ट्रीट स्थित बनर्जी के आवास में शनिवार देर रात करीब एक बजे घुसा। 

इसे भी पढ़ें: भूपेंद्र यादव ने बोटेनिकल गार्डन के जलीय पौधों वाले हिस्से का उद्घाटन किया

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आरोपी व्यक्ति पूरी रात घर के एक कोने में बैठा रहा और सुबह सुरक्षाकर्मियों की नजर उस पर पड़ी, जिसके बाद उन्होंने कालीघाट पुलिस थाने को सूचना दी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने कहा कि अब तक यह साफ नहीं हो सका कि व्यक्ति ने अवैध रूप से मुख्यमंत्री के आवास में प्रवेश क्यों किया? पुलिस के मुताबिक, आरोपी मानसिक रोगी जान पड़ रहा है। अधिकारी ने कहा, ‘‘ हम उससे बात कर रहे हैं और उसके बारे में पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं। हम यह भी पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं कि क्या उसने किसी के कहने पर मुख्यमंत्री के आवास में प्रवेश किया। मामले की जांच जारी है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़