रांची टी20 देखने गए शशि थरूर का सुझाव, अय्यर कर सकते हैं कप्तानी, सीनियर खिलाड़ियों को दें आराम

रांची टी20 देखने गए शशि थरूर का सुझाव, अय्यर कर सकते हैं कप्तानी, सीनियर खिलाड़ियों को दें आराम

रांची टी20 मुकाबले को देखने के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ शशि थरूर भी आए हुए थे। उन्होंने इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर साझा की हैं। इस दौरान उन्होंने कहा कि आखिरी टी20 मुकाबले में सीनियर खिलाड़ियों को आराम करना चाहिए और श्रेयर अय्यर को कप्तानी।

रांची। भारतीय सलामी बल्लेबाजों के ताबड़तोड़ प्रदर्शन के दम पर भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरा टी20 मुकाबला 7 विकेट से जीत लिया। इसी के साथ ही टी20 सीरीज भारत के नाम हो गई। इसके बाद रविवार को तीसरा और आखिरी मुकाबले कोलकाता के ऐतिहासिक ईडन गार्डन्स में खेला जाएगा। आपको बता दें कि रांची टी20 मुकाबले को देखने के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ शशि थरूर भी आए हुए थे। उन्होंने इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर साझा की हैं। 

इसे भी पढ़ें: कभी नहीं सोचा था कि भारतीय टीम में पदार्पण नहीं कर सकूंगा : हर्षल पटेल 

क्या अय्यर करेंगे कप्तानी ? 

इस दौरान उन्होंने कहा कि आखिरी टी20 मुकाबले में सीनियर खिलाड़ियों को आराम करना चाहिए और श्रेयर अय्यर को कप्तानी। दरअसल, शशि थरूर ने फोटो साझा करते हुए एक ट्वीट में लिखा कि भारत को टी20 सीरीज को जीतते हुए देखना अच्छा लगा। अगले मुकाबले के लिए हमें उन लोगों को आराम देना चाहिए, जिन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया है। उनमें रोहित शर्मा, केएल राहुल, ऋषभ पंत, भुवनेश्वर कुमार और दीपक चहर शामिल हैं। वहीं उन्होंने बीसीसीआई को टैग करते हुए लिखा कि श्रेयर अय्यर कप्तानी कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: एकतरफा मुकाबले में टीम इंडिया ने सीरीज अपने नाम की, दसरे T20 में न्यूजीलैंड को 7 विकेट से हराया 

आपको बता दें कि भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया था। जिसे गेंदबाजों ने सही साबित किया। न्यूजीलैंड ने 6 विकेट गंवाकर 153 रन बनाए थे। न्यूजीलैंड के लिये ग्लेन फिलिप्स 34 रन बनाकर शीर्ष स्कोरर रहे जबकि सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल और डेरिल मिशेल ने 31-31 रन बना पाने में सफल हुए। भारतीय गेंदबाजों में डेब्यू करने वाले हर्षल पटेल ने दो जबकि भुवनेश्वर कुमार, दीपक चाहर, रविचंद्रन अश्विन, अक्षर पटेल ने एक-एक विकेट झटके।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।