महाराष्ट्र में सत्ता में बदलाव पर शुभेंदु अधिकारी बोले- अगली बारी राजस्थान, झारखंड की

suvendu adhikari
ANI
पश्चिम बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि देखते हैं कि पश्चिम बंगाल में क्या होता है। कुछ भी बेकार नहीं जाएगा। हम सब जानते हैं कि राज्य में भाजपा कार्यकर्ताओं पर अत्याचार हो रहे हैं। अपने आप में विश्वास रखें। हम राज्य में 200 से अधिक सीट के साथ अगली सरकार बनाएंगे।
कोलकाता। भारतीय जनता पार्टी के समर्थन से महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे के मुख्यमंत्री पद संभालने के बाद पश्चिम बंगाल में भाजपा के वरिष्ठ नेता शुभेंदु अधिकारी ने सोमवार को संकेत दिया कि राजस्थान और झारखंड जैसे विपक्षी दलों के शासन वाले राज्यों पर पार्टी की नजर है। अधिकारी ने यह भी विश्वास जताया कि उनकी पार्टी 294 सदस्यीय विधानसभा में 200 से अधिक सीट जीतने के साथ पश्चिम बंगाल में अगली सरकार बनाएगी। 

इसे भी पढ़ें: उद्धव ठाकरे का आरोप, शिवसेना को खत्म करने की साज़िश रच रही है भाजपा

भाजपा नेता ने पूर्वी वर्द्धमान जिले के कटवा में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘आप सभी ने देखा कि महाराष्ट्र में क्या हुआ है। यह अंतिम नहीं है। झारखंड में भी ऐसा ही होगा। हम जल्द ही सरकार बदल देंगे। राजस्थान का भी वही हाल होगा, अगले साल जब वहां विधानसभा चुनाव होगा, हम जीतेंगे।’’ पश्चिम बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष ने कहा, ‘‘देखते हैं कि पश्चिम बंगाल में क्या होता है। कुछ भी बेकार नहीं जाएगा। हम सब जानते हैं कि राज्य में भाजपा कार्यकर्ताओं पर अत्याचार हो रहे हैं। अपने आप में विश्वास रखें। हम राज्य में 200 से अधिक सीट के साथ अगली सरकार बनाएंगे।’’ 

इसे भी पढ़ें: आम जनता को राहत देने की तैयारी में महाराष्ट्र सरकार, CM एकनाथ शिंदे का ऐलान- पेट्रोल, डीजल पर कम होगा वैट

अधिकारी ने हाल में कहा था कि पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के नेतृत्व वाली सरकार का भी महाराष्ट्र जैसा ही हश्र होगा और उसका कार्यकाल बहुत पहले खत्म हो जाएगा। अधिकारी की टिप्पणी की टीएमसी ने तीखी आलोचना की थी, जिसने भाजपा पर शिवसेना में बगावत को भड़काने का आरोप लगाया था। अधिकारी पर निशाना साधते हुए टीएमसी के प्रदेश महासचिव कुणाल घोष ने कहा कि भाजपा पिछले साल विधानसभा चुनाव में हार के सदमे से उबर नहीं पाई है और ऐसा लगता है कि वह सत्ता हथियाने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़