बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में तेलंगाना का खुफिया अधिकारी, 'मसौदा प्रस्तावों की ले रहा था फोटो

BJP
BJP
अभिनय आकाश । Jul 03, 2022 5:31PM
हैदराबाद इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में हो रही है। भारतीय जनता पार्टी के पूर्व विधायक एन. इंद्रसेन रेड्डी ने कहा कि उन्होंने खुफिया अधिकारी को उसके वरिष्ठ अधिकारियों को सौंप दिया और उसके द्वारा कथित तौर पर ली गयी तस्वीरों को डिलीट कर दिया।

हैदराबाद। भाजपा की तेलंगाना इकाई के एक वरिष्ठ नेता ने रविवार को आरोप लगाया कि उन्होंने पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी परिषद की बैठक की दिन की कार्यवाही के मसौदा प्रस्ताव की प्रतियों की तस्वीरें खींचते हुए एक खुफिया अधिकारी को पकड़ा। यह बैठक यहां हैदराबाद इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में हो रही है। भारतीय जनता पार्टी के पूर्व विधायक एन. इंद्रसेन रेड्डी ने कहा कि उन्होंने खुफिया अधिकारी को उसके वरिष्ठ अधिकारियों को सौंप दिया और उसके द्वारा कथित तौर पर ली गयी तस्वीरों को डिलीट कर दिया। रेड्डी ने एचआईसीसी के बाहर पत्रकारों से कहा, ‘‘स्थानीय सरकार दुर्भावनापूर्ण मंशा से यहां हो रही सभी बातचीत को सार्वजनिक करने की कोशिश कर रही है। खुफिया अधिकारी सभागार के भीतर आया, जहां प्रवेश की अनुमति नहीं थी। 

इसे भी पढ़ें: तेलंगाना में बाप-बेटे की सरकार, हर तरफ हो रहा भ्रष्टाचार, राष्ट्रीय कार्यकारिणी से KCR पर सीधा अटैक

उसने घटनास्थल पर घुसने के लिए पुलिस पास का इस्तेमाल किया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अधिकारी को दिन की कार्यवाही शुरू होने से पहले मोबाइल फोन से मसौदा प्रस्ताव की प्रतियों की तस्वीरें लेते हुए पकड़ा गया। उसे वरिष्ठ अधिकारियों को सौंप दिया गया।’’ भाजपा नेता ने कहा कि राज्य सरकार का रवैया स्वीकार्य नहीं है और उन्हें दूसरों की निजता का उल्लंघन नहीं करना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘उन्होंने (मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव) इस तरह खुफिया अधिकारियों को क्यों भेजा? अगर कुछ है तो उन्हें सामने आकर निपटना चाहिए।’’ उन्होंने मांग की कि राज्य सरकार इस घटना के लिए माफी मांगे। इस बीच, कथित घटना के बारे में पूछे जाने पर एक पुलिस अधिकारी ने टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़