बडगाम में कश्मीरी पंडित की आतंकियों ने की हत्या, LG बोले- दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा

बडगाम में कश्मीरी पंडित की आतंकियों ने की हत्या, LG बोले- दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा

राहुल भट्ट तहसीलदार कार्यालय में क्लर्क के रूप में काम करते थे। जानकारी के मुताबिक आतंकवादियों ने चतूरा में तहसील कार्यालय में घुसकर उन्हें गोली मारी। इसके बाद राहुल भट को अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालांकि इलाज के दौरान उनकी जान चली गई। भट बडगाम के शेखपुरा स्थित प्रवासी कॉलोनी में रहते थे।

एक ओर जहां जम्मू कश्मीर में कश्मीरी पंडितों की वापसी की बात हो रही है तो वहीं दूसरी ओर आतंकी अभी भी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। इसी कड़ी में आज जम्मू कश्मीर के बडगाम जिले में संदिग्ध आतंकवादियों ने एक कश्मीरी पंडित की गोली मारकर हत्या कर दी। आतंकियों ने कश्मीरी पंडित राहुल भट को अपना निशाना बताया। राहुल भट्ट तहसीलदार कार्यालय में क्लर्क के रूप में काम करते थे। जानकारी के मुताबिक आतंकवादियों ने चतूरा में तहसील कार्यालय में घुसकर उन्हें गोली मारी। इसके बाद राहुल भट को अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालांकि इलाज के दौरान उनकी जान चली गई। भट बडगाम के शेखपुरा स्थित प्रवासी कॉलोनी में रहते थे। 

इसे भी पढ़ें: जम्मू और कश्मीर में 168 आतंकवादी सक्रिय, 75 इस साल मारे गए : सेना

शुरुआती जानकारी के मुताबिक के दो आतंकी इस जघन्य अपराध में शामिल थे। इस अपराध के लिए उन्होंने पिस्तौल का इस्तेमाल किया है। दूसरी ओर जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल ने इस घटना की घोर निंदा की है। जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा के कार्यालय की ओर से किए गए ट्वीट में कहा गया है कि मैं बडगाम में आतंकवादियों द्वारा राहुल भट की बर्बर हत्या की कड़ी निंदा करता हूं। इस घिनौने आतंकी हमले के पीछे लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। इस दुख की घड़ी में जम्मू-कश्मीर सरकार शोक संतप्त परिवार के साथ खड़ी है। फिलहाल आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई है। जगह-जगह बैरिकेडिंग लगा दी गई है और लगातार संदिग्धों की पहचान की जा रही है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।