पुलिसकर्मी ने फौजी हवलदार को जड़ा थप्पड़, सड़क पर लगा जाम, पत्नी ने किया हंगामा

पुलिसकर्मी ने फौजी हवलदार को जड़ा थप्पड़, सड़क पर लगा जाम, पत्नी ने किया हंगामा

ग्वालियर के थाटीपुर चौराहा पर पुलिस ट्रैफिक सिग्नल के पास वाहन चेकिंग कर रही थी। इसी समय सेना में बतौर हवलदार पदस्थ गौरव शर्मा, पत्नी और बच्चे के साथ वहां से निकल रहे थे। और उसी समय गौरव के मुंह से कुछ निकल गया। जिसके बाद पुलिस जवान गौरव से उलझ गए।

भोपाल। मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में वाहन चेकिंग कर रही पुलिस का सेना में पदस्थ हवलदार से विवाद होने की खबर सामने आई है। पुलिसकर्मियों ने फौजी को उसकी पत्नी के सामने ही चांटा मार दिया। जिसका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर सामने आया है।

इसे भी पढ़ें:MP उपचुनाव के प्रचार में सीएम शिवराज का दिखा अनोखा अंदाज, मोबाइल फोन से दिया भाषण 

दरअसल फौजी की पत्नी बच्चे को गोद में लिए सड़क पर खड़ी हो गई। आम लोग भी महिला के साथ आ गए। इस हंगामे की सूचना मिलते ही पुलिस के वरिष्ठ अफसर भी मौके पर पहुंच गए। जानकारी के मुताबिक पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल भी पहुंच गए।

आपको बता दें कि ग्वालियर के थाटीपुर चौराहा पर पुलिस ट्रैफिक सिग्नल के पास वाहन चेकिंग कर रही थी। इसी समय सेना में बतौर हवलदार पदस्थ गौरव शर्मा, पत्नी और बच्चे के साथ वहां से निकल रहे थे। और उसी समय गौरव के मुंह से कुछ निकल गया। जिसके बाद पुलिस जवान गौरव से उलझ गए। गौरव की वहां ड्यूटी कर रहे SI वीरेन्द्र शर्मा और कॉन्स्टेबल से बहस हो गई।

इसे भी पढ़ें:भोपाल में लगातार बढ़ रहे है डेंगू के मरीज, स्वास्थय विभाग ने जताई चिंता 

वहीं पुलिस को नहीं पता था कि गौरव फौजी है। बहस में एक पुलिसकर्मी ने उसमें पीछे से चांटा मार दिया। जिसके बाद फौजी भड़क गया। और उसने भी पुलिसकर्मियों को मारना शुरू कर दिया। इस पर 7 से 8 पुलिसकर्मियों ने उसे घेर लिया और मारपीट कर थाने ले गए। पति को इस तरह ले जाते देख फौजी की पत्नी ने चौराहा पर हंगामा खड़ा कर दिया। समर्थन में स्थानीय लोग भी वहां आ गए। कुछ ही देर में सड़क पर जाम लग गया। और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी शुरू हो गई।

 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।