मध्य प्रदेश में इंदौर, उज्जैन और भोपाल में हालात खराब, लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमित

मध्य प्रदेश में इंदौर, उज्जैन और भोपाल में हालात खराब, लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमित

शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी रिपोर्ट में इंदौर में 945 से बढ़कर 1029 कोरोना पॉजिटिव मरीज हो गए तो वही भोपाल में यह आंकड़ा 323 से 360 पर पहुँच गया। वही उज्जैन में 76 से बढ़कर यह आंकड़ा 102 पर पहुँच गया है।

भोपाल। मध्यप्रदेश में 24 अप्रैल, 2020 शुक्रवार को कोरोना संक्रमितों की संख्या 1687 से बढ़कर 1846 पहुँच गई। इस दौरान इंदौर में सबसे अधिक 923 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान हुई, जबकि देर शाम जिला प्रशासन द्वारा जारी रिपोर्ट में यह आंकड़ा बढ 1085 तक पहुँच गया। इंदौर में 56 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई है यहाँ मृतकों की संख्या भी 56 हो गई है। जबकि राजधानी भोपाल में दोपहर साढे तीन बजे तक 37 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई जिसके बाद आंकड़ा 346 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहुचा गया। शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी रिपोर्ट में इंदौर में 945 से बढ़कर 1029 कोरोना पॉजिटिव मरीज हो गए तो वही भोपाल में यह आंकड़ा 323 से 360 पर पहुँच गया। वही उज्जैन में 76 से बढ़कर यह आंकड़ा 102 पर पहुँच गया है। इसके साथ ही खरगौर में भी हालत नाजुक बनी हुई है यहाँ शुक्रवार को 61 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले है। 

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस मध्य प्रदेश में नागरिकों को चिकित्सीय सहायता मुहैया करायेगी गठित की राज्य स्तरीय परामर्श समिति

जबकि प्रदेश में कोरोना संक्रमित जिलों की संख्या घटी है, राज्य में 28 से घटकर अब 25 जिले रह गए है जहां कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है। इन जिलों में राज्य सरकार ने 463 कंटेंमेंट एरिया घोषित किए है। जिसमें सबसे अधिक इंदौर में 170 तो भोपाल में 143 कंटेंमेंट क्षेत्र घोषित किए गए है। स्वास्थय विभाग की रिपोर्ट के अनुसार अब तक 210 कोरोना पॉजिटिव मरीज पूर्ण रूप से स्वस्थ होकर घर जा चुके है। जबकि 92 कोरोना संक्रमित मरीजों की कोविड-19 वायरस की वजह से मौत हो चुकी है। वही 36 की हालत गंभीर बनी हुई है।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस ने कहा मध्य प्रदेश को कोरोना का कारखाना बना दिया है, तो शिवराज सिंह ने कहा- “आप राजनीति करें, मैं काम कारूँगा”

राज्य में शुक्रवार दोपहर 3.30 बजे तक 159 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले है, स्वास्थय विभाग की जारी रिपोर्ट में गुरूवार को प्रदेश में 1687 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई थी वही एक दिन बाद  शुक्रवार को यह आंकड़ा बढ़कर 1846 तक पहुँच गया है। शुक्रवार 24 अप्रैल, 2020 को इंदौर में 1029, भोपाल में 360, खरगोन 61, उज्जैन 102, धार 36, खंडवा 35, जबलपुर 31, रायसेन 26, होशंगाबाद 26, बड़वानी 24, देवास 22, मुरैना 16, विदिशा 13, रतलाम 12, मंदसौर 08, आगर-मालवा 11, ग्वालियर 04, शाजापुर 06, श्योपुर 04, छिंदवाड़ा 04, अलीराजपुर 03, शिवपुरी 02, सागर 05, बैतूल 01, टीकमगढ़ 02, तथा अन्य राज्य से आये 03 मरीज मध्यप्रदेश में कोरोना पॉजिटिव पाये गए है। 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश की बीएसपी विधायक रामबाई ने भाजपा नेताओं को याद दिलाया उनका किया हुआ वादा

प्रदेश के जिन जिलों में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढी है वह इस प्रकार है- इंदौर में 56, भोपाल में 37, उज्जैन 26, खरगौन 10, तथा देवास और जबलपुर 01-01 है। इस दौरान भोपाल के मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी प्रभाकर तिवारी ने बताया कि भोपाल में शुक्रवार को 784 सेम्पल की रिपोर्ट आई है जिसमें से 37 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए है जबकि 747 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। जिन व्यक्तियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है उनकी कॉन्ट्रेक्ट हिस्ट्री निकाली जा रही है। वही शुक्रवार को भोपाल से 55 कोरोना पॉजिटिव मरीज पूर्ण रूप से स्वास्थ्य होकर अपने घरों के लिए रवाना हो गए। जिसमें विदिशा जिले के 13 और इटारसी जिले के 08 व्यक्ति शामिल है। इन्हें 14 दिन होम आईसोलेशन में रखा गया है। जबकि भोपाल में कोरोना संक्रमण के चलते 07 व्यक्तियों की पूर्व में मृत्यु हो चुकी है।

इसे भी पढ़ें: कोरोना से नहीं थैलेसीमिया से बढ़ सकता है मौतों का आंकड़ा, केन्द्र और राज्य सरकार को लिखा पत्र

वही पूरे प्रदेश में लगातार बढ़ रही कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में सुधार हुआ है। जबकि इंदौर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या सप्ताह के शुरूआती दिनों में घटने के बाद अचानक बढ़ गई है। यहां कोरोना संक्रमण की वजह से अब तक 56 मौतें हो चुकी है। प्रदेश में कोविड-19 की जाँच के लिए 11 टेस्ट लैब लगातार काम में लगी हुई है। इसी के साथ कोरोना संक्रमित मरीजों के जाँच सेंपल दिल्ली भी भेजे गए है। 24 अप्रैल, 2020 तक 33,074 सेंपल जांच के लिए भेज गए थे जिसमें से 24,548 की रिपोर्ट प्राप्त हो चुकी है जबकि 8,526 जाँचे लंबित है। जाँच के बाद अभी तक प्रदेश में 1687 कोरोना संक्रमित पाए गए है, जबकि 22861 कोरोना जाँच के नतीजे निगेटिव आए है। इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जनता से अपील की है कि लॉकडाउन का पालन करें और संक्रमण की कड़ी को तोड़ने में सरकार का सहयोग करें तथा अफवाहों से दूर रहें। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।