छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले से दो माओवादी गिरफ्तार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 21, 2020   16:29
छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले से दो माओवादी गिरफ्तार

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि गश्त के दौरान सुरक्षाबलों को सावनार गांव में नक्सली गतिविधि की सूचना मिली, जिसके बाद सुरक्षाबलों ने गांव से नक्सलियों की मद्देड़ एरिया कमेटी के सदस्य कोरसा दसरू को गिरफ्तार कर लिया।

रायपुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में सुरक्षाबलों ने एक इनामी माओवादी समेत दो माओवादियों को गिरफ्तार किया है। बीजापुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि जिले के गंगालूर और उसूर थाना क्षेत्र में सुरक्षाबलों ने दो माओवादियों को गिरफ्तार किया। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि शुक्रवार को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और जिला बल के संयुक्त दल को सावनार और कोरचोली गांव की ओर रवाना किया गया। उन्होंने बताया कि गश्त के दौरान सुरक्षाबलों को सावनार गांव में नक्सली गतिविधि की सूचना मिली, जिसके बाद सुरक्षाबलों ने गांव से नक्सलियों की मद्देड़ एरिया कमेटी के सदस्य कोरसा दसरू उर्फ सुरेश (45) को गिरफ्तार कर लिया। 

इसे भी पढ़ें: वामपंथी अतिवाद प्रभावित क्षेत्रों में विशेष सुविधाएं देगी मध्य प्रदेश सरकार 

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि कोरसा वर्ष 2006 से क्षेत्र में सक्रिय है। उसके खिलाफ जिले के अलग-अलग थानों में हत्या, हत्या का प्रयास, मारपीट, लूट और आगजनी सहित 24 मामले दर्ज है। साथ ही विभिन्न थानों में उसके खिलाफ 17 वारंट भी लंबित हैं। उन्होंने बताया कि कोरसा के सिर पर पांच लाख रूपए का इनाम था। जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इसी बीच, सुरक्षाबलों ने उसूर थाना क्षेत्र के अंतर्गत गलगम गांव से माओवादी सत्यम कट्टम (31) को गिरफ्तार किया। 

इसे भी पढ़ें: नक्सलवाद के खात्मे को लेकर भूपेश बघेल ने अमित शाह को लिखा पत्र, रोजगार के अवसर बढ़ाने की दी सलाह 

उन्होंने बताया कि उसूर थाना से जिला बल और सीआरपीएफ के संयुक्त दल को शनिवार को नड़पल्ली और गलगम गांव की ओर रवाना किया गया। सुरक्षाबलों ने गलगम गांव में घेराबंदी कर सत्यम को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सत्यम के खिलाफ ग्रामीणों के साथ मारपीट करने तथा उनसे राशन, बर्तन और मवेशी लूटने का आरोप दर्ज है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।