महाराष्ट्र सरकार के 2 साल पूरे, उद्धव ठाकरे ने कहा- MVA सरकार ने आपदा को अवसर में बदला

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 28, 2021   12:32
महाराष्ट्र सरकार के 2 साल पूरे, उद्धव ठाकरे ने कहा- MVA सरकार ने आपदा को अवसर में बदला

महाराष्ट्र विधानसभा के 2019 के चुनाव के बाद ठाकरे नीत शिवसेना ने मुख्यमंत्री पद साझा करने के मुद्दे पर लंबे समय से अपनी सहयोगी रही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ गठबंधन तोड़ लिया था। इसके बाद उसने एमवीए सरकार के गठन के लिए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस के साथ गठबंधन किया।

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को कहा कि उनकी सरकार के दो साल के कार्यकाल का ज्यादातर हिस्सा कोविड-19 के प्रबंधन में बीता और महा विकास आघाड़ी (एमवीए) इस आपदा को अवसर में बदलने में कामयाब रही। बतौर मुख्यमंत्री दो साल पूरे करने के अवसर पर दिए गए एक बयान में ठाकरे (61) ने उनकी सरकार के सभी प्रयासों में उनका समर्थन करने के लिए लोगों का धन्यवाद किया और कहा कि यह “जनता की सरकार” है। ठाकरे रीढ़ की हड्डी की सर्जरी के बाद से एक निजी अस्पताल में भर्ती हैं। मुख्यमंत्री ने कहा, “मानव निर्मित और प्राकृतिक आपदाओं के दौरान हम घबराए नहीं और हमारा ध्यान आम आदमी के कल्याण पर रहा। पिछले दो वर्ष का अधिकांश हिस्सा कोविड-19 प्रबंधन में चला गया। संकट को अवसर में बदलने में हम सफल हुए।” उन्होंने दावा किया कि दो साल पहले की स्वास्थ्य, चिकित्सा सुविधाओं और अवसंरचनाओं में और अब बहुत बड़ा अंतर देखने को मिलता है। 

इसे भी पढ़ें: Omicron वैरिएंट ने डराया: इंटरनेशनल फ्लाइट्स शुरू करने पर रिव्यू , दिल्ली में अलर्ट, महाराष्ट्र ने जारी की नई गाइडलाइन

महाराष्ट्र विधानसभा के 2019 के चुनाव के बाद ठाकरे नीत शिवसेना ने मुख्यमंत्री पद साझा करने के मुद्दे पर लंबे समय से अपनी सहयोगी रही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ गठबंधन तोड़ लिया था। इसके बाद उसने एमवीए सरकार के गठन के लिए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस के साथ गठबंधन किया। ठाकरे ने कहा कि वैश्विक महामारी से निपटते वक्त उनकी सरकार एवं प्रशासन में कोई नकारात्मकता नहीं थी। उन्होंने कहा, “हमने औद्योगिक निवेश, कृषि आधारभूत संरचना, आवास, रोजगार, जलापूर्ति, सौर ऊर्जा, पर्यावरण, वन और पर्यटन क्षेत्र में सुधार के लिए कड़ी मेहनत की है और सरकार के प्रयासों से आम आदमी का कल्याण कैसे सुनिश्चित होगा, इस पर ध्यान दिया गया है।” मुख्यमंत्री ने कहा कि महात्मा ज्योतिराव फुले कृषि ऋण माफी योजना के तहत किसानों का 20,000 करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया गया है। ठाकरे ने कहा कि राज्य सरकार ने अस्पतालों को 2,600 करोड़ रुपये उपलब्ध कराए और 14.4 लाख लोगों को महात्मा ज्योतिराव फुले जन आरोग्य योजना के तहत मुफ्त में इलाज दिया गया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।