UP Election 2022 । चौथे चरण का मतदान जारी, दांव पर दिग्गजों की प्रतिष्ठा

UP Election 2022 । चौथे चरण का मतदान जारी, दांव पर दिग्गजों की प्रतिष्ठा

चौथे चरण में कुछ प्रमुख उम्मीदवार, जिनकी प्रतिष्ठा दांव पर है, उनमें उप्र के कानून मंत्री बृजेश पाठक हैं, जो लखनऊ छावनी विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं, और दो बार के सभासद सुरेंद्र सिंह गांधी उर्फ राजू गांधी का सामना करेंगे।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए चौथे चरण का मतदान शुरू हो गया है। मतदान सुबह 7:00 बजे से शुरू हुआ जो कि शाम 6:00 बजे तक चलेगा। मतदान शुरू होने के साथ ही पोलिंग बूथ पर लोगों की कतारें लगनी शुरू हो गई। मतदान को लेकर सुरक्षा व्यवस्था भी दुरुस्त की गई है। उत्तर प्रदेश में कुल 7 चरण के चुनाव होने हैं जिसमें से तीन चरण संपन्न हो गए हैं जबकि चौथा चरण आज शुरू हुआ है। चौथे चरण में राज्य के 9 जिलों के 59 विधानसभा क्षेत्रों में 23 फरवरी को मतदान होगा। चौथे चरण में कुल 624 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। जिन नौ जिलों में मतदान होना है, उनमें - पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, सीतापुर, हरदोई, उन्नाव, लखनऊ, रायबरेली, बांदा और फतेहपुर- शामिल हैं। प्रदेश में हुये 2017 के विधानसभा चुनावों में इस 59 सीटों में से 51 पर भाजपा जीती थीं, उसके बाद समाजवादी पार्टी को चार जबकि बहुजन समाज पार्टी को तीन सीटों पर जीत मिली थी।

इसे भी पढ़ें: EC ने विधानसभा चुनावों को लेकर जारी पाबंदियों में दी ढील, रैलियों और रोड शो के लिए 50% की लिमिट को हटाया

चौथे चरण में कुछ प्रमुख उम्मीदवार, जिनकी प्रतिष्ठा दांव पर है, उनमें उप्र के कानून मंत्री बृजेश पाठक हैं, जो लखनऊ छावनी विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं, और दो बार के सभासद सुरेंद्र सिंह गांधी उर्फ राजू गांधी का सामना करेंगे। 2017 के उप्र विधानसभा चुनाव में पाठक ने लखनऊ मध्य विधानसभा क्षेत्र से जीत हासिल की थी। लखनऊ पूर्व विधानसभा क्षेत्र से उप्र के एक और मंत्री आशुतोष टंडन मैदान में हैं। सरोजिनीनगर विधानसभा सीट पर भाजपा द्वारा मैदान में उतारे गए ईडी के पूर्व अधिकारी राजेश्वर सिंह और सपा सरकार में पूर्व मंत्री अभिषेक मिश्रा के बीच मुकाबला होगा। लखनऊ उत्तर सीट पर भाजपा के टिकट पर डॉ नीरज बोरा दूसरी बार अपनी किस्मत आजमा रहें हैं। यहां उनका मुकाबला छात्र नेत्री समाजवादी पार्टी की पूजा शुक्ला से हैं। उप्र विधानसभा के उपाध्यक्ष नितिन अग्रवाल को भी इस चरण में चुनावी परीक्षा का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने हाल ही में कुछ समय पहले सपा छोडकर भाजपा का दामन थामा है।

इसे भी पढ़ें: अमित शाह ने सपा-बसपा पर साधा निशाना, बोले- उप्र में पहले जहां माफिया कोरिडोर था, अब वहां डिफेंस कोरिडोर बन रहा है

कांग्रेस का गढ़ माने जाने वाले रायबरेली में भी इस चरण में मतदान होगा, जिसमें रायबरेली से भाजपा की अदिति सिंह मैदान में हैं। इससे पहले अदिति सिंह कांग्रेस के साथ थीं। हरचंदपुर विधानसभा क्षेत्र (रायबरेली में) से कांग्रेस के पूर्व विधायक राकेश सिंह, जो भाजपा में शामिल हो गए हैं, इस बार भाजपा उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं। तीन अक्टूबर को किसानों के विरोध प्रदर्शन के दौरान भड़की हिंसा में चार किसानों सहित आठ लोगों के मारे जाने के बाद सुर्खियों में आए लखीमपुर में भी इस चरण में मतदान होगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।