बेगूसराय में वेब पत्रकार की हत्या की WJAI ने की भर्त्सना, सीएम को पत्र लिख त्वरित कार्रवाई की मांग की

web journalist
मामले में डब्ल्यूजेएआई ने बिहार के मुख्यमंत्री, बिहार सरकार के मुख्य सचिव, डीजीपी, डीआईजी बेगूसराय, जिलाधिकारी बेगूसराय एवं एसपी बेगूसराय को पत्र लिख कर त्वरित कार्रवाई की मांग की है।

बेगूसराय में वेब पत्रकार सुभाष कुमार की हत्या बीती शाम किये जाने की वेब जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया (डब्ल्यूजेएआई) ने तीखी भर्त्सना की है। मामले में डब्ल्यूजेएआई ने बिहार के मुख्यमंत्री, बिहार सरकार के मुख्य सचिव, डीजीपी, डीआईजी बेगूसराय, जिलाधिकारी बेगूसराय एवं एसपी बेगूसराय को पत्र लिख कर त्वरित कार्रवाई की मांग की है। डब्ल्यूजेएआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष आनंद कौशल ने बिहार के मुख्यमंत्री और आलाधिकारियों से वेब पत्रकार सुभाष कुमार हत्याकांड में त्वरित कार्रवाई करते हुए त्वरित अनुसंधान, दोषियों की शीघ्र गिरफ्तारी और स्पीडी ट्रायल की मांग की।

इसे भी पढ़ें: निठारी कांड में स्पेशल CBI कोर्ट का बड़ा फैसला, सुरेंद्र कोली को सुनाई गई फांसी की सजा

राष्ट्रीय अध्यक्ष आनंद कौशल, उपाध्यक्ष माधो सिंह अमिताभ ओझा, राष्ट्रीय महासचिव डॉ अमित रंजन, राष्ट्रीय सचिव निखिल के डी वर्मा, सुरभित दत्त, मुरली मनोहर श्रीवास्तव,राष्ट्रीय संयुक्त सचिव मधुप मणि पिक्कू, डॉ लीना, गनपत आर्यन, अकबर इमाम,जीतेन्द्र कुमार सिंह, रमेश पांडेय, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष ओमप्रकाश अश्क, राष्ट्रीय कार्यालय सचिव मंजेश कुमार, बिहार प्रदेश अध्यक्ष प्रवीण बागी, महासचिव अनूप नारायण सिंह पश्चिम बंगाल प्रदेश अध्यक्ष चंद्र्चुर गोस्वामी, महासचिव अनामिका डे, चंदन कुमार, गौतम गिरियग, प्रफुल्ल झा, बालकृष्ण, रंजित कुमार सिंह, अनुभव रंजन, संगीता, मिथिलेश मिश्रा, हरेंद्र कुमार, गनपत आर्यन, मृत्युंजय शर्मा, प्रशांत प्रकाश, सुभाजीत घोष, वशिष्ट कुमार, कुनाल भगत, अशरफ खान, आरजू अंसारी, विक्रांत, संजीव कुमार अहूजा, दीपक समेत अन्य सदस्यों ने घटना की निंदा की और दिवंगत पत्रकार की आत्मा कि शांति एवं पीड़ित परिजन को दुःख सहने की शक्ति देने की ईश्वर से प्रार्थना की।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़