दिल्ली हाफ मैराथन में चैंपियन गेमेचू की नजरें कोर्स रिकॉर्ड तोड़ने की हैट्रिक पर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 27, 2020   15:33
  • Like
दिल्ली हाफ मैराथन में चैंपियन गेमेचू की नजरें कोर्स रिकॉर्ड तोड़ने की हैट्रिक पर

महिला वर्ग की गत चैंपियन गेमेचू की नजरें कोर्स रिकॉर्ड तोड़ने की हैट्रिक पर होगी।गेमेचू ने कहा, ‘‘इस साल फिर से मैं कोर्स रिकॉर्ड तोड़ने के लिए कोशिश करने जा रही हूं। कोरोना के बाद मैंने काफी ट्रेनिंग की है और पिछले साल की तुलना में और भी तेजी से आगे बढ़ने के लिए तैयार हूं।

नयी दिल्ली। दो बार की गत चैंपियन इथोपिया की सेहाय गेमेचू ने गुरुवार को कहा कि वह रविवार को यहां एयरटेल दिल्ली हाफ मैराथन में महिला रेस में तीसरी बार कोर्स रिकॉर्ड तोड़ने के इरादे से उतरेंगी। इक्कीस साल की गेमेचू ने 2018 में दिल्ली हाफ मैराथन में पदार्पण पर बड़ा प्रभाव छोड़ते हुए महिलाओं के वर्ग में 66 मिनट और 50 सेकेंड के कोर्स रिकॉर्ड के साथ खिताब जीता था। उन्होंने पिछले साल अपने रिकॉर्ड में 50 सेकेंड का सुधार किया जब 66 मिनट के सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत प्रदर्शन से दूसरी बार खिताब जीतने में सफल रहीं।

इसे भी पढ़ें: भारत के युवा निशानेबाज विष्णु ने ‘चैंपियन ऑफ चैंपियन’ प्रतियोगिता के लिए क्वालीफाई किया

गेमेचू ने कहा, ‘‘इस साल फिर से मैं कोर्स रिकॉर्ड तोड़ने के लिए कोशिश करने जा रही हूं। कोरोना के बाद मैंने काफी ट्रेनिंग की है और पिछले साल की तुलना में और भी तेजी से आगे बढ़ने के लिए तैयार हूं। गेमेचू के हमवतन और पुरुष वर्ग के गत चैंपियन एंडमलेक बेलिहु ने भी कोर्स रिकॉर्ड तोड़ने की इच्छा जताई। बेलिहु भी गेमेचू की तरह लगातार तीसरे खिताब के लिए चुनौती पेश करेंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




कोच जिनेदिन जिदान की अनुपस्थिति में रियाल मैड्रिड की बड़ी जीत, एल्विस को 4-1 से हराया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 24, 2021   11:59
  • Like
कोच जिनेदिन जिदान की अनुपस्थिति में रियाल मैड्रिड की बड़ी जीत, एल्विस को 4-1 से हराया

रियाल मैड्रिड की तरफ से कासेमीरो ने 15वें मिनट में पहला गोल किया जिसके बाद बेंजेमा ने 41वें मिनट में हेजार्ड के खूबसूरत पास को गोल में बदला। बेल्जियम के फारवर्ड हेजार्ड ने पहले हाफ के इंजुरी टाइम में इस सत्र का अपना तीसरा गोल किया।

बार्सिलोना। एडेन हेजार्ड के शानदार प्रदर्शन और करीम बेंजेमा के दो गोल की मदद से रियाल मैड्रिड ने कोरोना वायरस से संक्रमित अपने कोच जिनेदिन जिदान की अनुपस्थिति में एल्विस पर 4-1 की बड़ी जीत दर्ज करके स्पेनिश फुटबॉल लीग ला लीगा में दूसरे स्थान पर अपनी स्थिति मजबूत की। रियाल मैड्रिड की तरफ से कासेमीरो ने 15वें मिनट में पहला गोल किया जिसके बाद बेंजेमा ने 41वें मिनट में हेजार्ड के खूबसूरत पास को गोल में बदला। बेल्जियम के फारवर्ड हेजार्ड ने पहले हाफ के इंजुरी टाइम में इस सत्र का अपना तीसरा गोल किया। 

इसे भी पढ़ें: चैम्पियंस लीग के इतिहास में पहली बार बाहर हो सकती है रीयाल मैड्रिड! 

जोसेलु मातो ने एल्विस की तरफ से 59वें मिनट में पहला गोल किया लेकिन बेंजेमा 70वें मिनट में अपना दूसरा गोल करने में सफल रहे। इस जीत से रीयाल ने शीर्ष पर काबिज एटलेटिको मैड्रिड से अंतर कम कर दिया है। रियाल के 19 मैचों में 40 जबकि एटलेटिको के 17 मैचों में 44 अंक हैं। एक अन्य मैच में यूसुफ एन नेसरी की हैट्रिक की मदद से सेविला ने कैडिज को 3-0 से हराया। इससे सेविला की टीम बार्सिलोना को पीछे छोड़कर तीसरे स्थान पर पहुंच गयी है। रीयाल बेटिस और सोसिडाड के बीच खेला गया एक अन्य मैच 2-2 से बराबरी पर छूटा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




थाईलैंड ओपन के सेमीफाइनल में सात्विक साईराज और चिराग शेट्टी की जोड़ी हारी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 23, 2021   14:50
  • Like
थाईलैंड ओपन के सेमीफाइनल में सात्विक साईराज और चिराग शेट्टी की जोड़ी हारी

दावेदार सात्विक साइराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी थाईलैंड ओपन के सेमीफाइनल में हारे।सुपर 1000 टूर्नामेंट में दोनों 2018 और 2019 में खेले लेकिन पहली बार सेमीफाइनल में पहुंचे थे।

बैंकॉक।तोक्यो ओलंपिक में पदक के दावेदार सात्विक साइराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी टोयोटा थाईलैंड ओपन सुपर 1000 टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन के बाद सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो गई। दुनिया की दसवें नंबर की जोड़ी को नौवें नंबर की मलेशियाई जोड़ी आरोन चिया और सो वूइ यिक ने 35 मिनट में 21 . 18, 21 . 18 से हराया। सात्विक और चिराग ने 2019 में थाईलैंड में पहला सुपर 500 खिताब जीता था और फ्रेंच ओपन सुपर 750 टूर्नामेंट के फाइनल तक पहुंचे। सुपर 1000 टूर्नामेंट में दोनों 2018 और 2019 में खेले लेकिन पहली बार सेमीफाइनल में पहुंचे थे।

इसे भी पढ़ें: एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी हॉकी फिर हुई स्थगित, इस कारण लिया फैसला

मलेशियाई जोड़ी की मुस्तैदी का दोनों सामना नहीं कर सके। भारतीय जोड़ी ने शुरूआत में 4 .2 से बढत बना ली लेकिन मलेशियाई जोड़ी ने शानदार वापसी करते हुए ब्रेक तक 11 . 10 की बढत बनाई। एक समय स्कोर 15 . 16 था लेकिन इसके बाद मलेशियाई जोड़ी ने लगातार चार अंक लेकर पहला गेम जीत लिया। दूसरे गेम में भी भारतीय जोड़ी की शुरूआत अच्छी रही लेकिन फिर लगातार चार अंक गंवा दिये। ब्रेक के बाद भी वे वापसी नहीं कर सके और मलेशियाई जोड़ी ने छह मैच प्वाइंट के साथ जीत दर्ज की।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




अर्जेंटीना दौरे पर भारतीय महिला हॉकी टीम की करारी हार, रविवार को होगा अगला मुकाबला

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 23, 2021   12:05
  • Like
अर्जेंटीना दौरे पर भारतीय महिला हॉकी टीम की करारी हार, रविवार को होगा अगला मुकाबला

भारतीय महिला हॉकी टीम की अर्जेंटीना दौरे पर हार का सामना करना पड़ा।भारत को 54वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर मिला जिस पर सलीमा ने रिबाउंड पर गोल दागा। हूटर से ठीक पहले हालांकि भारत को रक्षण में चूक का खामियाजा भुगतना पड़ा। भारत का सामना अब रविवार को अर्जेंटीना बी से होगा।

ब्यूनस आयर्स। भारतीय महिला हॉकी टीम को अर्जेंटीना दौरे पर करारी हार का सामना करना पड़ा जिसे मेजबान बी टीम ने 2 . 1 से मात दी। अर्जेटीना के लिये सोल पागेला ने 11वें मिनट में गोल किया जबकि भारतीय फारवर्ड सलीमा टेटे ने 54वें मिनट में बराबरी का गोल दागा। इसके तीन मिनट बाद ही हालांकि भारतीय रक्षापंक्ति में सेंध लगाकर आगस्टिना गोर्जेलानी ने अर्जेंटीना के लिये विजयी गोल कर दिया। पिछले मैचों में भारत ने अर्जेंटीना की जूनियर टीम के साथ 2 . 2 और 1 . 1 से ड्रॉ खेला था। मुख्य कोच शोर्ड मारिन ने कहा ,‘‘ हमने आज मजबूत अर्जेंटीना टीम से खेला जिसमें उसकी सीनियर टीम के कई खिलाड़ी थे। अगले सप्ताह सीनियर टीम के खिलाफ खेलने से पहले यह अच्छी तैयारी थी। हमने नियमित समय खत्म होने से ठीक पहले पेनल्टी कॉर्नर गंवाया जिसमें सुधार करना होगा।’’

इसे भी पढ़ें: एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी हॉकी फिर हुई स्थगित, इस कारण लिया फैसला

मेजबान टीम ने शुरू ही से आक्रामक हॉकी खेली और छह मिनट के भीतर लगातार दो पेनल्टी कॉर्नर बनाये। गोलकीपर रजनी ने हालांकि गोल नहीं होने दिये। मेजबान ने हालांकि 11वें मिनट में पागेला के गोल के दम पर बढत बना ली। अर्जेंटीना के अडिग रक्षण के कारण भारतीय टीम पेनल्टी कॉर्नर नहीं बना सकी। भारत को पहला पेनल्टी कॉर्नर 23वें मिनट में मिला लेकिन गुरजीत कौर इस पर गोल नहीं कर सकी। अर्जेंटीना ने 43वें और 51वें मिनट में फिर पेनल्टी कॉर्नर बनाये हालांकि उस पर कामयाबी नहीं मिली। भारत को 54वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर मिला जिस पर सलीमा ने रिबाउंड पर गोल दागा। हूटर से ठीक पहले हालांकि भारत को रक्षण में चूक का खामियाजा भुगतना पड़ा। भारत का सामना अब रविवार को अर्जेंटीना बी से होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept