एसिडिटी की समस्या से हैं परेशान तो बस एक बार अपनाएं यह घरेलू उपाय

एसिडिटी की समस्या से हैं परेशान तो बस एक बार अपनाएं यह घरेलू उपाय

घर में बड़े−बूढे़ हमेशा ही तुलसी की पत्तियां चबाने की सलाह देते हैं। वैसे तो इससे कई लाभ होते हैं, लेकिन एसिडिटी को दूर करने में बेहद प्रभावी है। एक तुलसी के पत्तों को खाएं या 3−4 तुलसी के पत्तों को एक कप पानी में उबालें और इसे कुछ मिनट के लिए उबलने दें।

एसिडिटी कोई नई समस्या नहीं है। यह समस्या तब होती है जब पेट की गैस्टि्रक ग्रंथियों में एसिड का अधिक स्राव होता है। इससे गैस का निर्माण, सांस की बदबू, पेट में दर्द और अन्य लक्षण नजर आते हैं। यह एक अप्रिय प्रतिकि्रया को टि्रगर करता है जिससे आप खुद को बीमार महसूस करते हैं। आमतौर पर, भोजन के बीच लंबे अंतराल, बहुत अधिक मसालेदार भोजन, खाली पेट या चाय, कॉफी, धूम्रपान या शराब के अत्यधिक सेवन के कारण एसिडिटी हो सकती है। एसिडिटी काफी कष्टप्रद हो सकती है। ऐसे में आप एसिडिटी से छुटकारा पाने के लिए कुछ आसान घरेलू उपायों को अपना सकते हैं−

तुलसी की पत्तियां

घर में बड़े−बूढे़ हमेशा ही तुलसी की पत्तियां चबाने की सलाह देते हैं। वैसे तो इससे कई लाभ होते हैं, लेकिन एसिडिटी को दूर करने में बेहद प्रभावी है। एक तुलसी के पत्तों को खाएं या 3−4 तुलसी के पत्तों को एक कप पानी में उबालें और इसे कुछ मिनट के लिए उबलने दें। इस पर बार−बार घूंट लेते हैं। यह एसिडिटी के लिए सबसे अच्छा घरेलू उपचारों में से एक है। 

इसे भी पढ़ें: महिलाओं में सफेद पानी की समस्या से छुटकारा पाने के लिए इन उपायों का लें सहारा 

सौंफ

आप पेट की अम्लता को रोकने के लिए, भोजन के बाद सौंफ चबा सकते हैं। इसके अलावा सौंफ की चाय का सेवन भी किया जा सकता है। इन बीजों में पाए जाने वाले तेलों के कारण अपच और सूजन को कम करने में चाय बहुत उपयोगी मानी जाती है।

दालचीनी

दालचीनी पेट की अम्लता को दूर करने के लिए एक प्राकृतिक एंटासिड के रूप में काम करता है। यह पाचन और अवशोषण में सुधार करके आपके पेट को व्यवस्थित कर सकता है। आप जठरांत्र संबंधी मार्ग में संक्रमण को ठीक करने के लिए दालचीनी की चाय पीएं। दालचीनी पोषक तत्वों का एक पावरहाउस है और स्वास्थ्य लाभकारी गुणों से भरपूर है।

खीरा

यह एक ऐसा घरेलू उपचार है, जिसे सालों से मेरे खुद के घर में इस्तेमाल किया जाता है। जब भी आपको एसिडिटी या हार्टबर्न की समस्या हो तो ऐसे में आप बस खीरे को छिलकर काट लें। इसके सेवन से आपको तुरंत आराम होगा। 

इसे भी पढ़ें: सर्वाइकल होने पर नजर आते हैं यह लक्षण, इन एक्सरसाइज की मदद से मिलेगा लाभ 

छाछ

छाछ में लैक्टिक एसिड होता है जो पेट में एसिडिटी को सामान्य करता है। इसलिए अगर आपको एसिडिटी की समस्या हो रही हैं तो ऐसे में आप छाछ का सेवन करें। अगर आप चाहें तो इसमें एक चुटकी काली मिर्च भी मिला सकती है।

- मिताली जैन