भाजपा सांसद संतोष पाण्डेय ने छत्तीसगढ़ सरकार और पुलिस पर लगाए बड़े आरोप, पूछे कई सवाल

भाजपा सांसद संतोष पाण्डेय ने छत्तीसगढ़ सरकार और पुलिस पर लगाए बड़े आरोप, पूछे कई सवाल

राजनंदगांव से भाजपा सांसद संतोष पांडेय ने छत्तीसगढ़ सरकार और पुलिस पर कई बड़े आरोप लगाए हैं। संतोष पांडेय का दावा है कि उनकी संपत्ति को पुलिस कुर्क करने का भरसक प्रयास कर रही है।

भले ही छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल विभिन्न राज्यों में कांग्रेस के लिए प्रचार कर रहे हैं। लेकिन उनके राज्य में भी सियासी पारा चढ़ा हुआ है। भाजपा नेता लगातार कांग्रेस सरकार पर निशाना साध रहे हैं और दावा कर रहे हैं कि सरकार बदले की राजनीति कर रही है। इसी कड़ी में राजनंदगांव से भाजपा सांसद संतोष पांडेय ने छत्तीसगढ़ सरकार और पुलिस पर कई बड़े आरोप लगाए हैं। संतोष पांडेय का दावा है कि उनकी संपत्ति को पुलिस कुर्क करने का भरसक प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ पुलिस खासकर कवर्धा पुलिस से यह प्रश्न होने चाहिए कि जब सांसद का दैनिक प्रोटोकाल पुलिस प्रशासन के साथ साझा किया जाता है, जिसमें प्रतिदिन हर घंटे का ब्यौरा रहता है कि सांसद महोदय किस वक्त किस जगह पर होंगे तब उन्हें भगौड़ा किस आधार पर घोषित कर दिया? 

इसे भी पढ़ें: UP Assembly Election: कांग्रेस के 'स्टार प्रचारक' ने छोड़ा हाथ, हुए बीजेपी के साथ, कहा- देर आए दुरुस्त आए

उन्होंने कहा कि यह सवाल तो आज छत्तीसगढ़ के प्रत्येक व्यक्ति के जहन में है, जिसका उत्तर देने में न ही पुलिस प्रशासन, न ही छत्तीसगढ़ शासन, न ही भूपेश बघेल और न ही उनके समर्थक सक्षम हैं। प्रश्न यह है कि भूपेश सरकार राजनैतिक महत्वाकांक्षा के लिए किस हद तक गिर सकती है? 'परित्राणाय साधुनाम को आत्मसात करने वाले पुलिस बल से क्या यही अपेक्षा अब छत्तीसगढ़ की जनता रख सकती है? सबसे बड़ा प्रश्न तो यह है कि यदि भूपेश सरकार में इतना बड़ा षडयंत्र एक सांसद के साथ हो सकता है तो फिर भूपेश की नज़र में आम जनता तो किसी खेत की मूली नहीं, वे तो जब चाहे किसी की संपत्ति कुर्क कर सकते है, किसी को भी कैसी ही प्रताड़ना देकर अपनी मनमानी कर सकते हैं। जब सांसद ही सुरक्षित नहीं इस सरकार में तब आम जनता कहाँ जाए? जनता तो अपनी सुरक्षा सरकार को सुपुर्द करती है, और यदि सरकार ही जनता और जन-प्रतिनिधि के खिलाफ षडयंत्र करे तो फिर जनता अपनी सुरक्षा हेतु कहाँ जाए? प्रश्न गंभीर है, लोकतंत्र लोगो के लिए है,

इसे भी पढ़ें: आरपीएन सिंह ने पार्टी को कहा अलविदा तो कांग्रेस बोली- कायर लोग नहीं लड़ सकते लड़ाई

संतोष पाण्डेय ने कहा कि यह कितनी बड़ी विडंबना है कि छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार जो जनता की सेवा करने के लिए आई है, वह अपने शक्ति का इस कदर दुरुपयोग कर रही है कि पुलिस को ही यह निर्देश दे दिया कि एक सांसद और पूर्व सांसद को भगोड़ा घोषित करते हुए केस दर्ज करें। आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ पोलिस राजनांदगांव के सांसद संतोष पाण्डेय के ऊपर भगोड़ा होने का दोष लगाते हुए उनकी संपत्ति को कुर्क करने का भरसक प्रयास कर रही है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...