चीनी सेना ने अरुणाचल प्रदेश के लापता युवक को भारतीय सेना को सौंपा, किरेन रिजिजू ने दी जानकारी

चीनी सेना ने अरुणाचल प्रदेश के लापता युवक को भारतीय सेना को सौंपा, किरेन रिजिजू ने दी जानकारी
प्रतिरूप फोटो

केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने बताया कि चीनी पीएलए ने अरुणाचल प्रदेश के युवक मिराम तारोन को भारतीय सेना को सौंप दिया है। मेडिकल जांच सहित उचित प्रक्रियाओं का पालन किया जा रहा है। दरअसल, मिराम तारोन सियांग जिले से 18 जनवरी को लापता हो गया था। जिसके बाद भारतीय सेना ने चीनी सेना से संपर्क किया था।

ईटानगर। अरुणाचल प्रदेश से लापता हुए 19 वर्षीय मिराम तारोन को पड़ोसी मुल्क चीन ने गुरुवार को भारतीय सेना को सौंप दिया है। आपको बता दें कि चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने अरुणाचल प्रदेश के वाचा दमाई में मिराम तारोन को भारतीय सेना को सौंप दिया। दरअसल, मिराम तारोन सियांग जिले से 18 जनवरी को लापता हो गया था। जिसके बाद भारतीय सेना ने चीनी सेना से संपर्क किया था और उस वक्त पता चला था कि मिराम तारोन गलती से चीनी क्षेत्र में दाखिल हो गया था जिसके बाद पीएलए ने उसे हिरासत में ले लिया था। 

इसे भी पढ़ें: चीनी सेना ने अरुणाचल प्रदेश के लापता लड़के का लगाया पता, भारतीय सेना लगातार कर रही संपर्क 

केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने बताया कि चीनी पीएलए ने अरुणाचल प्रदेश के युवक मिराम तारोन को भारतीय सेना को सौंप दिया है। मेडिकल जांच सहित उचित प्रक्रियाओं का पालन किया जा रहा है। केंद्रीय मंत्री ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

इसे भी पढ़ें: अरुणाचल से किशोर के अपहरण पर चुप क्यों हैं प्रधानमंत्री, देश को जवाब दें: कांग्रेस

पहले भी लापता हो चुके हैं युवक

पीएलए ने सितंबर 2020 में अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सुबनसिरी जिले से पांच युवकों का अपहरण कर लिया था और लगभग एक सप्ताह के बाद उन्हें रिहा कर दिया था। हालांकि ताजा मामला ऐसे समय का है जब पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) को लेकर भारत और चीन की सेनाएं आमने-सामने हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।