मुसलमानों के लिए कांग्रेस के 16 संकल्प, UP के 8 हजार मस्जिदों के बाहर पार्टी करेगी ये काम

मुसलमानों के लिए कांग्रेस के 16 संकल्प, UP के 8 हजार मस्जिदों के बाहर पार्टी करेगी ये काम

कांग्रेस का मकसद उत्तर प्रदेश चुनाव में खुलकर सामने आ चुका है। साफ है कि उत्तर प्रदेश चुनाव में समाजवादी पार्टी, बसपा और एमआईएम के मुकाबले कांग्रेस अपने आप सो मुसलमान वोटरों के सामने ज्यादा आकर्षक तरीके से प्रस्तुत करना चाहती है।

उत्तर प्रदेश चुनाव से ठीक पहले मुस्लिम वोटों के लिए तुष्टिकरण की सियासत बहुत तेज हो गई है। ओवैसी की नजर तो उत्तर प्रदेश के मुसलमान मतदाताओं पर हैं ही, अब कांग्रेस ने भी खुल्लम-खुल्ला हिन्दू-मुसलमान करना शुरू कर दिया है। कांग्रेस ने सोलह सूत्रीय संकल्प पत्र जारी कर मुसलमानों के वोटों को साधने के क्रम में उनका सपोर्ट मांगने की कोशिश की है। कांग्रेस ने अपने संकल्प पत्र में मुसलमानों के लिए 16 वादें जारी किए हैं। आज यानी की जुमें की नमाज के बाद से मस्जिदों के बाहर कांग्रेस अपना संकल्प पत्र तमाम मुसलमानों के बीच में बांटेगी। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा ने प्रियंका के साथ हुई बदसलूकी को लेकर EC को लिखा पत्र, कोलकाता डीसीपी के खिलाफ की कार्रवाई की मांग

कांग्रेस के 16 सूत्रीय मंत्र 

  1. सीएए-एनआरसी में दर्ज केस की वापसी, मुआवजा मिलेगा।
  2. मॉब लिंचिंग के खिलाफ कानून बनेगा।
  3. बुनकरों को फ्लैट रेट पर बिजली दी जाएगी, कताई मिल फिर खुलेगी।
  4. अंबेडकर छात्रावास के तर्ज पर हर जिले में मौलाना आजाद छात्रावास खोला जाएगा। 
  5. बुनकरों के लिए जारी 2350 करोड़ रुपये खर्च करेंगे।
  6. टैनरियों फिर खुलेंगे, लाइसेंस प्रक्रिया आसान होगी। 
  7. अल्पसंख्यक छात्रों को स्कॉलरशिप दी जाएगी।
  8. मदरसा शिक्षकों के वेतन के लिए केंद्र पर दबाव, नौकरी पक्की की जाएगी
  9. 30 सालों में वक्फ की संपत्तियों में हुई धांधली की जांच, दोषियों को सजा
  10. पसमांदा तबकों के विकास के लिए राज्य पसमांदा आयोग बनाया जाएगा
  11. विधान परिषद में दस्तकार वर्ग के सदस्य को नॉमिनेट किया जाएगा
  12. अखिलेश सरकार में हुए दंगों की जांच और दोषियों को सजा दी जाएगी
  13. कानपुर दंगे पर माथुर कमीशन की रिपोर्ट पर कार्रवाई की जाएगी
  14. . हर कमिश्नरी में एक यूनानी मेडिकल कॉलेज खोला जाएगा
  15. अल्पसंख्यक बहुल इलाकों में पुलिस भर्ती के लिए स्पेशल कैंप
  16. गो अधिनियम में बेगुनाह पाए गए लोगों को मुआवजा दिया जाएगा

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस सरकारों ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस के योगदान, विरासत को तवज्जो नहीं दिया : जितेंद्र सिंह

कांग्रेस का मकसद उत्तर प्रदेश चुनाव में खुलकर सामने आ चुका है। साफ है कि उत्तर प्रदेश चुनाव में समाजवादी पार्टी, बसपा और एमआईएम के मुकाबले कांग्रेस अपने आप सो मुसलमान वोटरों के सामने ज्यादा आकर्षक तरीके से प्रस्तुत करना चाहती है। कांग्रेस ने जिस तरीके से मुसलमानों को अपनी ओर खींचने के लिए 16 सूत्रीय संकल्प पत्र सामने रखा है वो ये बताने के लिए काफी है कि मुसलमान वोटों की खेती के सहारे कांग्रेस सत्ता की फसल काटने की फिराक में है।  





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।