गहलोत के मंत्री ने इस्तीफे की पेशकश की, कहा- मुझे जलालत भरे पद से मुक्त करें, जानें वजह

ashok chandna
Twitter @ ashok chandna
अंकित सिंह । May 26, 2022 10:34PM
अशोक चांदना के ट्वीट से साफ तौर पर यह जाहिर हो रहा है कि वे मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव कुलदीप रांका से बेहद नाराज हैं। सूत्रों का दावा है कि अशोक चांदना लगातार कुलदीप रांका पर मंत्रालय के कामकाज में दखल देने का आरोप लगा रहे हैं।

राजस्थान में कांग्रेस के लिए सब कुछ ठीक-ठाक नहीं चल रहा है। राजस्थान सरकार में खेल और युवा मामलों के मंत्री तथा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेहद करीबी अशोक चांदना ने इस्तीफे की पेशकश कर दी है। दरअसल, अफसरशाही की वजह से अशोक चांदना नाराज चल रहे हैं। इस बात को लेकर अशोक चांदना ने एक ट्वीट भी किया है। अपने ट्वीट में उन्होंने मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव कुलदीप रांका का नाम लिखा है। अशोक चांदना के ट्वीट से साफ तौर पर यह जाहिर हो रहा है कि वे मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव कुलदीप रांका से बेहद नाराज हैं। सूत्रों का दावा है कि अशोक चांदना लगातार कुलदीप रांका पर मंत्रालय के कामकाज में दखल देने का आरोप लगा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: वन क्षेत्र में वन्यजीवों से छेड़छाड़ जैसी घटनाओं को रोकने के लिए सख्त कदम उठाये : गहलोत

अपने ट्वीट में अशोक चांदना ने लिखा कि माननीय मुख्यमंत्री जी मेरा आपसे व्यक्तिगत अनुरोध है की मुझे इस ज़लालत भरे मंत्री पद से मुक्त कर मेरे सभी विभागों का चार्ज श्री कुलदीप रांका जी को दे दिया जाए, क्योंकि वैसे भी वो ही सभी विभागों के मंत्री है। धन्यवाद। हालांकि, अशोक चांदना का यह बागी तेवर कहीं ना कहीं कांग्रेस के लिए परेशानी का सबब बन सकती है। राजस्थान में राज्यसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस अपने समीकरणों को साधने में जुटी हुई है। हालांकि अब उन्होंने इस्तीफे की पेशकश कर दी है जिसके बाद से सियासत तेज में है। अशोक चांदना हिंडोली के विधायक हैं। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़