सुनीता दुग्गल ने VRS लेकर राजनीति में आजमाया अपना हाथ, कांग्रेस के इस दिग्गज को हराकर पहुंची हैं लोकसभा

सुनीता दुग्गल ने VRS लेकर राजनीति में आजमाया अपना हाथ, कांग्रेस के इस दिग्गज को हराकर पहुंची हैं लोकसभा
प्रतिरूप फोटो
Twitter

करीब 22 साल तक इनकम टैक्स विभाग में रहीं सुनीता दुग्गल ने साल 2014 में वीआरएस ले लिया था और फिर अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत की। हालांकि उनकी शुरुआत अच्छी नहीं रही और वो विधानसभा चुनाव हार गईं। इसके बाद साल 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा की टिकट पर उन्होंने अपनी किस्मत आजमाई और बड़ी जीत दर्ज की।

नयी दिल्ली। भाजपा सांसद सुनीता दुग्गल हरियाणा की सिरसा लोकसभा सीट का प्रतिनिधित्व करती हैं। उन्होंने साल 2019 के आम चुनावों में तत्कालीन हरियाणा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर को शिकस्त देकर सुर्खियां बटोरी थीं। उस वक्त उन्होंने अशोक तंवर को 3,09,918 वोटों से परास्त कर पहली बार सांसद बनी। 

इसे भी पढ़ें: उद्धव ठाकरे के चलते छोड़नी पड़ी थी शिवसेना और फिर जाना पड़ा जेल, उतार-चढ़ाव भरा रहा नारायण राणे का राजनीतिक जीवन 

कौन हैं सुनीता दुग्गल ?

मौजूदा समय में हरियाणा से लोकसभा पहुंचने वाली एकमात्र महिला सांसद सुनील दुग्गल का जन्म 29 अप्रैल, 1968 को रोहतक में हुआ था। शुरुआती शिक्षा-दीक्षा ग्रहण करने के बाद उन्होंने केमिस्ट्री से एमएससी की और ऐसा करने वाली वो एकमात्र महिला सांसद हैं। सुनीला दुग्गल के पति राजेश दुग्गल आईपीएस हैं। सुनीता दुग्गल भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारी समिति की सदस्य हैं। इसके अतिरिक्त भाजपा की हरियाणा इकाई की उपाध्यक्ष हैं।

करीब 22 साल तक इनकम टैक्स विभाग में रहीं सुनीता दुग्गल ने साल 2014 में वीआरएस ले लिया था और फिर अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत की। हालांकि उनकी शुरुआत अच्छी नहीं रही और वो विधानसभा चुनाव हार गईं। इसके बाद साल 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा की टिकट पर उन्होंने अपनी किस्मत आजमाई और बड़ी जीत दर्ज की। 

इसे भी पढ़ें: MP में भाजपा का ब्राह्मण चेहरा हैं नरोत्तम मिश्रा, खुद को हिन्दूवादी नेता के तौर पर कर चुके स्थापित ! 

सुनील दुग्गल ने जिस सीट से लोकसभा चुनाव जीता, उसे इंडियन नेशनल लोक दल का गढ़ माना जाता है। हालांकि इस सीट पर कांग्रेस का भी अच्छा खासा प्रभाव रहा है और 9 बार कांग्रेस को इस सीट से जीत का स्वाद चखने का मौका मिला था। लेकिन 2019 में भाजपा ने वो करिश्मा कर दिखाया जो आजतक नहीं किया था और इसका श्रेय सुनीता दुग्गल को जाता है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...