हरदीप पुरी बोले- पूरी तरह से दक्षिणपंथी नहीं है मोदी सरकार, 'कांग्रेस मुक्त भारत' पर दिया बड़ा बयान

हरदीप पुरी बोले- पूरी तरह से दक्षिणपंथी नहीं है मोदी सरकार, 'कांग्रेस मुक्त भारत' पर दिया बड़ा बयान
ANI

हरदीप पुरी ने साफ तौर पर कहा कि भाजपा कभी नहीं चाहती कि कांग्रेस पूरी तरह से गायब हो जाए क्योंकि इस देश को विपक्ष की जरूरत है। हरदीप पुरी के इस बयान को देखा जाए तो कहीं ना कहीं यह भाजपा के उस बयान से बिल्कुल अलग है जिसमें 'कांग्रेस मुक्त भारत' का नारा दिया गया था।

2014 में भाजपा अगर ताकतवर हुई तो उसमें 'कांग्रेस मुक्त भारत' का नारा अहम भूमिका में रहा। 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा ने 'कांग्रेस मुक्त भारत' का नारा दिया था जिसे पार्टी के छोट-बड़े कार्यकर्ताओं ने बुलंदियों से उठाया था। इन सब के बीच कांग्रेस को लेकर केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बड़ा बयान दिया है। हरदीप पुरी ने साफ तौर पर कहा कि भाजपा कभी नहीं चाहती कि कांग्रेस पूरी तरह से गायब हो जाए क्योंकि इस देश को विपक्ष की जरूरत है। हरदीप पुरी के इस बयान को देखा जाए तो कहीं ना कहीं यह भाजपा के उस बयान से बिल्कुल अलग है जिसमें 'कांग्रेस मुक्त भारत' का नारा दिया गया था। हालांकि यह बात हुई सच है कि आप अगर किसी भाजपा नेता से कांग्रेस मुक्त नारे के बारे में पूछा जाता है तो उनकी तरफ से जवाब यही होता है कि हमें कुछ करने की जरूरत ही नहीं है, वह खुद कमजोर होते जा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: बंगाल में अमित शाह ने राष्ट्रपति शासन वाली मांग को किया खारिज, नेताओं से बोले- संघर्ष करें, सत्ता में आएं

दरअसल, केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री पुरी ‘गोवा फेस्ट 2022’ में बोले रहे थे। इसी दौरान उन्होंने कहा कि हम नहीं चाहते कि कांग्रेस पार्टी पूरी तरह से गायब हो जाए। हमें विपक्ष की जरूरत है। अगर हमारे पास विपक्ष है, तो यह विपक्ष को तय करना है कि इसका नेतृत्व राहुल गांधी, ममता बनर्जी, अरविंद केजरीवाल या शरद पवार किसके द्वारा किया जाना चाहिए। विभिन्न दलों के लोगों के भाजपा में शामिल होने के बारे में पूछे गए सवाल पर मंत्री ने कहा कि यही लोकतंत्र है कि “अगर मैं किसी पार्टी का सदस्य हूं तो मेरा पास दूसरे दल में जाने का अधिकार है।” उन्होंने कहा कि अगर आप कहें कि पार्टी में किसी को शामिल करने से पहले फीडबैक लें तो आपकी बात वाजिब है। 

इसे भी पढ़ें: संजय राउत बोले- देश में महंगाई बड़ी समस्या, प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री कुछ बोलने को तैयार नहीं

इसके साथ ही हरदीप पुरी ने एक और दिलचस्प बात कही। हरदीप पुरी ने दावा किया कि केंद्र के नरेंद्र मोदी सरकार पूरी तरह से दक्षिणपंथी सरकार नहीं है। आपको बता दें कि भाजपा पर लगातार दक्षिणपंथी होने का आरोप लगता है। लेकिन हरदीप पुरी का यह दावा अपने आप में उन लोगों को करारा जवाब है जो मोदी सरकार पर इस तरह के आरोप लगाते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सबसे बड़ी पार्टी है जिसके 300 से ज्यादा लोकसभा सदस्य हैं और “लोग अगर अपनी पार्टी से नाखुश हैं तो उनका झुकाव भाजपा की तरफ होगा।” मोदी सरकार के बारे में उन्होंने कहा कि यह “पूरी तरह से एक दक्षिणपंथी सरकार नहीं है” और “दाएं, बाएं, इसके समर्थक, उसके विरोधी” ये सब सिर्फ नारे हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...