ITBP के DG संजय अरोड़ा बने दिल्ली के नए कमिश्नर, राकेश अस्थाना की जगह संभालेंगे कार्यभार

Sanjay Arora
ANI Image
प्राप्त जानकारी के मुताबिक, संजय अरोड़ा तमिलनाडु काडर के 1988 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। आईपीएस संजय अरोड़ा ने मालवीय राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान जयपुर से इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग में स्नातक की उपाधि प्राप्त की। आपको बता दें कि राकेश अस्थाना रिटायर हो रहे हैं। ऐसे में संजय अरोड़ा उनकी नए कमिश्नर के तौर पर कार्यभार संभालेंगे।

नयी दिल्ली। भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के महानिदेशक संजय अरोड़ा को राष्ट्रीय राजधानी का नया कमिनश्वर बनाया गया है। आपको बता दें कि राकेश अस्थाना रिटायर हो रहे हैं। ऐसे में संजय अरोड़ा उनकी नए कमिश्नर के तौर पर कार्यभार संभालेंगे। गृह मंत्रालय ने संजय अरोड़ा की नियुक्ति की है।

इसे भी पढ़ें: चीन से चाकुओं की तस्करी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 5 आरोपी गिरफ्तार, पुलिस ने 14,000 से अधिक चाकू किए जब्त 

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, संजय अरोड़ा तमिलनाडु काडर के 1988 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। आईपीएस संजय अरोड़ा ने मालवीय राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान जयपुर से इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग में स्नातक की उपाधि प्राप्त की।

वीरता पदक से हो चुके हैं सम्मानित

आईपीएस बनने के बाद उन्होंने तमिलनाडु पुलिस में विभिन्न पदों पर कार्य किया। वह स्पेशल टास्क फोर्स के पुलिस अधीक्षक (एसपी) थे, जहां उन्होंने वीरप्पन गिरोह के खिलाफ महत्वपूर्ण सफलता हासिल की, जिसके लिए उन्हें मुख्यमंत्री के वीरता पदक से सम्मानित किया गया।

साल 1991 में राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) द्वारा प्रशिक्षित होने के बाद संजय अरोड़ा ने LTTE गतिविधि के दौरान तमिलनाडु के मुख्यमंत्री को सुरक्षा प्रदान करने के लिए विशेष सुरक्षा समूह (एसएसजी) बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने तमिलनाडु के विभिन्न जिलों के एसपी के रूप में भी कार्य किया है।

इसे भी पढ़ें: पुलिस डिटेंशन सेंटर में कांग्रेस संसदीय दल की बैठक, हिरासत में लिए गए नेताओं ने GST, मूल्य वृद्धि समेत तमाम मुद्दों पर की विस्तृत चर्चा 

संजय अरोड़ा ने 1997 से 2002 तक कमांडेंट के रूप में प्रतिनियुक्ति पर आईटीबीपी में सेवा की। उन्होंने 1997 से 2000 तक उत्तराखंड के मतली में आईटीबीपी बटालियन की सुरक्षा में एक सीमा की कमान संभाली थी। संजय अरोड़ा ने 2000 से 2002 तक मसूरी के आईटीबीपी अकादमी में कमांडेंट के रूप में सेवारत रहे। संजय अरोड़ा को बीएसएफ, सीआरपीएफ में उच्च पदों पर कार्य करने का भी अनुभव है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़