CM शिवराज ने विधायकों पर साधा निशाना, कहा - सिर्फ ट्रासंफर और शिकायत के कागज लेके घूमते है

CM शिवराज ने विधायकों पर साधा निशाना, कहा - सिर्फ ट्रासंफर और शिकायत के कागज लेके घूमते है

सीएम ने कहा कि विधायकों से एक शिकायत है। जितने भी विधायक आते हैं सभी शिकायत और ट्रांसफर के कागज हाथ में लेकर आते हैं। मगर जिन्हें कराना है ऐसे विधायक कहीं से भी ट्रांसफर करवा लेते हैं।

भोपाल। राजधानी भोपाल में बीजेपी प्रदेश कार्यसमिति की बैठक शुक्रवार को ऐतिहासिक मिंटो हॉल हुई। बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव-2023 की रणनीति तैयार की गई। बैठक को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ में जमकर कसीदे पढ़े। सीएम शिवराज ने पीएम मोदी को सुपर ह्यूमन करार दिया।

इसे भी पढ़ें:Prabhasakshi NewsRoom। असम-मिजोरम में सुलह, शांति बनाए रखने के लिए दोनो राज्यों ने लिया संकल्प 

मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि कोरोना काल मे प्रधानमंत्री मोदी ने जिस तरह देश का नेतृत्व किया है वो कोई भी नेता नहीं कर सकता। कांग्रेस की सरकार में वैक्सीन बनवाने में 10-10 साल लग जाते थे। वहीं पीएम मोदी ने सिर्फ एक साल के अंदर कोरोना वैक्सीन को बनवा दिया।

मुख्यमंत्री शिवराज ने सिर्फ आदिवासियों समाज के लिए  काम करने वाले आरोपों के लिए मंच से जवाब देते हुए कहा कि सामान्य वर्ग का भी विकास किया जा रहा है। पिछड़ा वर्ग आयोग बनाया गया है।हमारी सरकार में सबका साथ सबका विकास हो रहा है।

इसे भी पढ़ें:मिंटो हॉल का बदला नाम, कुशाभाऊ ठाकरे के नाम से जाना जाएगा ये हॉल 

सीएम ने कहा कि विधायकों से एक शिकायत है। जितने भी विधायक आते हैं सभी शिकायत और ट्रांसफर के कागज हाथ में लेकर आते हैं। मगर जिन्हें कराना है ऐसे विधायक कहीं से भी ट्रांसफर करवा लेते हैं।

उन्होंने कहा कि कुछ तो इतने तेज है कि कांग्रेस की सरकार में भी ट्रांसफर करवा लेते थे। विधायक इतने कागज लेकर आते हैं कि अगर उनकी पूरी बात मान लेंगे तो ना तो स्कूलों में मास्टर बचेंगे और ना अस्पतालों में डॉक्टर। इसलिए प्रदेश सरकार ट्रांसफर के लिए ट्रांसपेरेंट नीति बनाई है।

इसे भी पढ़ें:नीति आयोग की रिपोर्ट में बिहार के बाद झारखंड के सबसे गरीब होने पर राजनीति गर्म 

वहीं टिकट नहीं मिलने वाले नेताओं को सीएम शिवराज ने नसीहत देते हुए कहा कि 5 साल कब गुजर जाएंगे पता ही नहीं चलेगा। राजनीति में धैर्य रखना चाहिए।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...