गिरफ्तारी से बचने के लिए रची मौत की कहानी, नौ माह बाद पकड़ा गया गुनहगार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 9, 2022   14:42
गिरफ्तारी से बचने के लिए रची मौत की कहानी, नौ माह बाद पकड़ा गया गुनहगार
prabhasakshi

मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में कथित तौर पर 6.65 लाख रुपए की नकदी चोरी के मामले में गिरफ्तारी से बचने के लिए अपनी मौत की कहानी गढ़ने वाले 34 वर्षीय एक व्यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

छतरपुर। मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में कथित तौर पर 6.65 लाख रुपए की नकदी चोरी के मामले में गिरफ्तारी से बचने के लिए अपनी मौत की कहानी गढ़ने वाले 34 वर्षीय एक व्यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उप मंडल पुलिस अधिकारी मनमोहन सिंह बघेल ने सोमवार को बताया कि पिछले साल 16 जुलाई को व्यापारी सुधीर अग्रवाल ने बमीठा थाने में शिकायत दर्ज कराई थी कि मिनी ट्रक चालक सुनील नामदेव राजनगर कस्बे में उनके द्वारा भेजी गई लोहे की छड़ें देने के बाद वहां से मिले 6.65 लाख रूपये लेकर गायब हो गया है और उसका वाहन एक गोदाम में लावारिस हालत में मिला है।

इसे भी पढ़ें: निर्मला सीतारमण की जमकर हो रही वाहवाही, अधिकारी ने स्टॉफ से मांगा पानी तो बोतल लेकर खुद पहुंचीं केंद्रीय मंत्री

अधिकारी ने बताया कि 24 जुलाई 2021 को बमीठा थाना क्षेत्र में एक अज्ञात शव मिला था, आरोपी के परिवार ने उस शव की शिनाख्त नामदेव के तौर पर की और उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि शव बेहद क्षत विक्षत हालत में था लेकिन नामदेव के घरवालों ने दूर से ही देख कर तत्काल उसकी शिनाख्त कर दी,जिससे परिवार वालों पर पुलिस को संदेह हुआ और पुलिस अधिकारी ने शव के डीएनए की जांच कराने के आदेश दिए। जांच में मृतक का डीएनए नामदेव के परिवार के सदस्यों के डीएनए से नहीं मिला, जिससे यह बात सामने आई कि शव नामदेव का नहीं था।

इसे भी पढ़ें: अटल कैंसर केयर केंद्र की शुरुआत करते हुए बोले जेपी नड्डा, जो काम करने वाले हैं उन्हें काम दीजिए, जो नहीं करने वाले हैं, उन्हें आराम दीजिए

उन्होंने कहा कि इसी बीच व्यापारी अग्रवाल ने तीन मई को बागेश्वर धाम मंदिर के रास्ते में नामदेव को देखा और जब उससे अपने पैसे मांगे तो नामदेव ने कथित तौर पर व्यापारी को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी और कहा कि पुलिस के रिकॉर्ड में वह पहले ही मर चुका है। अधिकारी ने कहा कि अग्रवाल ने पुलिस को इसकी शिकायत की जिसके बाद पुलिस के एक दल ने नामदेव को पिछले सप्ताह गढ़ तिगड्डा इलाके से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने नामदेव के पास से पांच लाख रुपए भी बरामद किए हैं। उन्होंने बताया कि पुलिस नामदेव के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच कर रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।