देवेंद्र फडणवीस को मित्र राज ठाकरे ने लिखा पत्र, कहा- आपने महाराष्ट्र के सामने साबित की है अपनी काबिलियत

raj thackeray
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने कहा कि आपने लगातार 5 साल राज्य के मुख्यमंत्री के तौर पर काम किया है। आपने वर्तमान सरकार को लाने के लिए बहुत मेहनत की है और इन सबके बावजूद आपने अपनी चिंताओं को दरकिनार कर पार्टी को ध्यान में रखकर उपमुख्यमंत्री का पद संभाला है।

मुंबई। महाराष्ट्र में नई सरकार का गठन हो चुका है। इस सरकार में उपमुख्यमंत्री का पद देवेंद्र फडणवीस को सौंपा गया है और एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। दरअसल, देवेंद्र फडणवीस ने संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में ऐलान किया था कि एकनाथ शिंदे हमारे नेता होंगे और महाराष्ट्र की जिम्मेदारी संभालेंगे। देवेंद्र फडणवीस के इस ऐलान से सभी चौंक गए। क्योंकि माना जा रहा था कि देवेंद्र फडणवीस मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे लेकिन एकनाथ शिंदे की ताजपोशी हुई। ऐसे में देवेंद्र फडणवीस के त्याग और उनके मजबूत इरादों के चलते जमकर प्रशंसा हो रही थी।

इसे भी पढ़ें: अमित शाह ने वादा पूरा किया होता तो अब महाराष्ट्र में भाजपा का मुख्यमंत्री होता: उद्धव ठाकरे 

इसी दौरान केंद्रीय नेतृत्व के जोर देने पर देवेंद्र फडणवीस सरकार में शामिल हुए और उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली। जिसको लेकर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे ने उनकी जमकर प्रशंसा की। उन्होंने देवेंद्र फडणवीस को मराठी में पत्र लिखा। जिसमें उन्होंने कहा कि प्रिय देवेंद्र जी, सबसे पहले तो महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री के रूप में जिम्मेदारी स्वीकार करने के लिए बधाई। यह सोचा गया था कि आप महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में वापसी करेंगे, लेकिन ऐसा नहीं होना था।

उन्होंने कहा कि आपने लगातार 5 साल राज्य के मुख्यमंत्री के तौर पर काम किया है। आपने वर्तमान सरकार को लाने के लिए बहुत मेहनत की है और इन सबके बावजूद आपने अपनी चिंताओं को दरकिनार कर पार्टी को ध्यान में रखकर उपमुख्यमंत्री का पद संभाला है। आपने अपने कार्यों से दिखाया है कि पार्टी, पार्टी का क्रम किसी भी व्यक्ति की आकांक्षाओं से बड़ा होता है। राज ठाकरे ने कहा कि पार्टी के प्रति प्रतिबद्धता इसका सार है कि वह क्या है। यह देश और राज्य के सभी राजनीतिक दलों और संगठनों के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के लिए हमेशा याद रखने वाली बात है।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री शिंदे, बागी विधायकों के निलंबन संबंधी याचिका पर 11 जुलाई को होगी सुनवाई 

उन्होंने कहा आपका फैसला इस बात का सार है कि आखिर पार्टी का अनुशासन क्या होता है। आपका यह पद स्वीकार करना ऐसे ही है कि जैसे धनुष के जरिए लक्ष्य हासिल करने के लिए रस्सी को पहले खींचा जाए और फिर तीर छोड़ा जाए। उन्होंने कहा कि एक बात तो पक्की है कि आपने महाराष्ट्र के सामने अपनी काबिलियत साबित की है, इसलिए आपको देश की बेहतरी के लिए और मेहनत करने का मौका मिलता है। एक बार फिर बधाई! आपका दोस्त, राज ठाकरे।

अन्य न्यूज़