भारत से हार के बाद बांग्लादेश कप्तान मोमिनुल बोले, मानसिक तौर पर होना होगा मजबूत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 25, 2019   13:07
भारत से हार के बाद बांग्लादेश कप्तान मोमिनुल बोले, मानसिक तौर पर होना होगा मजबूत

मोमिनुल ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि एक टीम के रूप में हम अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए, फिर चाहे यह गेंदबाजी हो या बल्लेबाजी। कई विभागों में सुधार की जरूरत है। अगर हम सुधार करते हैं तो अगले साल अच्छी चुनौती दे पाएंगे। 2020 में हमें लगभग 10 टेस्ट खेलने हैं।

कोलकाता। भारतीय तेज गेंदबाजों के खिलाफ यहां संपन्न दो मैचों की टेस्ट श्रृंखला में बल्लेबाजी क्रम की कमजोरियां उजागर होने के बाद बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक ने रविवार को कहा कि अगले साल लंबे टेस्ट सत्र से पूर्व उन्हें अपनी मानसिक मजबूती पर काम करने की जरूरत है। मोमिनुल ने कहा कि इस श्रृंखला में लचर प्रदर्शन से उन्हें टेस्ट क्रिकेट खेलने वाला बेहतर देश बनने में मदद मिलेगी।

इसे भी पढ़ें: डे-नाइट टेस्ट को भारत के सभी हिस्सों में ले जाने की जरूरत: सौरव गांगुली

बांग्लादेश की टीम भारत को कोई चुनौती पेश नहीं कर पाई और दोनों ही टेस्ट में उसे पारी की हार का सामना करना पड़ा। भारत ने इंदौर में पहला टेस्ट पारी और 130 रन जबकि कोलकाता में दूसरा टेस्ट पारी और 46 रन से जीता। यहां ईडन गार्डन्स पर हुए भारत के पहले दिन-रात्रि टेस्ट में सभी 19 विकेट तेज गेंदबाजों इशांत शर्मा (नौ विकेट), उमेश यादव (आठ विकेट) और मोहम्मद शमी (दो विकेट) की तिकड़ी ने चटकाए।

इसे भी पढ़ें: नील वैगनर के पांच विकेट से इंग्लैंड ढेर, न्यूजीलैंड ने पहले टेस्ट में हराया

मोमिनुल ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि एक टीम के रूप में हम अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए, फिर चाहे यह गेंदबाजी हो या बल्लेबाजी। कई विभागों में सुधार की जरूरत है। अगर हम सुधार करते हैं तो अगले साल अच्छी चुनौती दे पाएंगे। 2020 में हमें लगभग 10 टेस्ट खेलने हैं। उन्होंने कहा कि आपको पता होगा कि हमें नियमित रूप से टेस्ट मैच खेलने को नहीं मिलते। हमें अगले साल लगभग 10 टेस्ट खेलने हैं और उम्मीद करते हैं कि हम बेहतर प्रदर्शन करेंगे। मोमिनुल ने कहा कि हम सभी को मानसिक रूप से बेहतर तैयारी करने की जरूरत है। उम्मीद करते हैं कि हम मानसिक रूप से मजबूत बनेंगे और सुधार करेंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।