Unlock 5 का 87वां दिन: देश में कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या में वृद्धि से एक्टिव मरीजों की संख्या घटी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 26, 2020   21:37
Unlock 5 का 87वां दिन: देश में कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या में वृद्धि से एक्टिव मरीजों की संख्या घटी

मंत्रालय ने बताया कि सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में ठीक होने की दर 90 प्रतिशत से अधिक पहुंच गई है। मंत्रालय ने बताया कि पिछले 29 दिनों से देश में प्रतिदिन ठीक होने वाले लोगों की संख्या संक्रमण के प्रतिदिन सामने आने वाले मामलों की संख्या से अधिक है।

देश में कोविड-19 महामारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या में तेजी से वृद्धि के साथ ही उपचाराधीन मरीजों की संख्या में लगातार गिरावट आई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को यह जानकारी दी। मंत्रालय ने बताया कि देश में इस समय 2,81,667 मरीजों का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 2.77 प्रतिशत है। उसने बताया कि देशभर में इस बीमारी से ठीक होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 97,40,108 हो गई है। मंत्रालय ने बताया कि सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में ठीक होने की दर 90 प्रतिशत से अधिक पहुंच गई है। मंत्रालय ने बताया कि पिछले 29 दिनों से देश में प्रतिदिन ठीक होने वाले लोगों की संख्या संक्रमण के प्रतिदिन सामने आने वाले मामलों की संख्या से अधिक है। 

अहमदाबाद में कोरोना टीका के लिए शुरू हुआ ऑनलाइन पंजीकरण !

अहमदाबाद नगर निगम ने प्राथमिकता समूहों के लोगों के वास्ते कोरोना वायरस के टीके के लिए पंजीकरण की ऑनलाइन सुविधा शुरू की है। एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी। अहमदाबाद नगर निगम के अनुसार शहर के प्राथमिकता वाले समूहों के ऐसे लोग ऑनलाइन अपना पंजीकरण करवा सकते हैं जिन्होंने अभी तक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के साथ अपना पंजीकरण नहीं कराया गया है। एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, नागरिक निकाय ने स्वास्थ्य कर्मियों, अग्रिम पंक्ति के कर्मियों, 50 वर्ष से अधिक उम्र वाले लोगों तथा 50 वर्ष से कम उम्र के ऐसे लोगों के लिए पंजीकरण प्रक्रिया शुरू की है जो किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं। गुजरात सरकार ने पहले कहा था कि उसने 3.9 लाख स्वास्थ्य कर्मियों की पहचान कोरोना वायरस टीकाकरण के लिए पहले प्राथमिकता समूह के रूप में की है। उनमें 2.71 सरकारी डॉक्टर, नर्स, लैब सहायक और अन्य कर्मी शामिल हैं। इस सूची में निजी अस्पतालों के डॉक्टर और अन्य कर्मी भी शामिल हैं। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री नितिन पटेल ने कहा था कि पुलिस, होमगार्ड और कोविड-19 के इलाज और सेवाओं में अप्रत्यक्ष रूप से शामिल अन्य लोगों को दूसरी प्राथमिकता दी जाएगी। 

इसे भी पढ़ें: केरल में कोविड-19 के 3,527 नए मामले आए, 3782 मरीज ठीक हुए 

ओडिशा में कोविड-19 के 334 नए मामले

ओडिशा में कोविड-19 के 334 नए मरीज सामने आने के बाद राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़कर शनिवार को 3,28,201 हो गए। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि वायरस से चार और लोगों की मौत हो जाने के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,857 हो गई। उन्होंने बताया कि नये मरीजों में 194 नए मरीज पृथक-वास केन्द्रों में सामने आए जबकि 140 का संक्रमितों के सम्पर्क में आने वालों की पहचान करने के दौरान संक्रमित होने का पता चला। उन्होंने बताया कि सुंदरगढ़ में सबसे अधिक 40 नये मामले सामने आए। इसके बाद खुर्दा जिले में 30 और संबलपुर में 30 नये मरीजों का पता चला। अधिकारी ने बताया कि पिछले 24 घंटे में खुर्दा, बालेश्वर, मयूरभंज और सुंदरगढ़ जिलों में चार मरीजों की जान गयी। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस से जान गंवाने वाले 53 मरीज ऐसे थे जिन्हें अन्य गंभीर बीमारियां भी थीं। उन्होंने बताया कि सबसे अधिक 319 लोगों की मौत खुर्दा जिले में हुई है। इसके बाद गंजाम में 246, सुंदरगढ़ में 164 लोगों की मौत हुई। अधिकारी ने बताया कि राज्य में अभी 2,913 मरीजों का इलाज चल रहा है और 3,23,378 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, राज्य में अभी तक 67.99लाख से अधिक नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई है, जिनमें से 29,848नमूनों की जांच शुक्रवार को की गई। यहां संक्रमण की दर 4.83 प्रतिशत है।

आंध्र प्रदेश कोविड-19 के 282 नए मामले

आंध्र प्रदेश में शनिवार तक 8.80 लाख लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है जिनमें से फिलहाल सिर्फ 3,700 लोगों का इलाज चल रहा है। पिछले 24 घंटे में राज्य में संक्रमण के 282 नए मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, शनिवार सुबह नौ बजे तक पिछले 24 घंटे में संक्रमण से सिर्फ एक व्यक्ति की मौत हुई है जबकि 442 मरीजों को इलाज के बाद छुट्टी मिली है। राज्य में अभी तक कुल 8,69,920 लोग संक्रमण मुक्त हुए हैं जबकि संक्रमण से 7,092 लोगों की मौत हुई है। बुलेटिन के अनुसार, कुरनूल और प्रकाशम जिलों में संक्रमण के सिर्फ एक-एक नए मामले आए हैं जो पिछले छह महीने में सबसे कम हैं। वहीं श्रीकाकुलम और विजियनग्राम में संक्रमण के चार-चार नए मामले आए हैं। सिर्फ कृष्णा जिले में 639 लोग उपचाराधीन हैं। अन्य सभी जिलों में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 500 से कम है।

उत्तराखंड में कोविड-19 के 374 नये मामले

उत्तराखंड में शनिवार को कोविड-19 के 374 नए मामले सामने आए, जबकि 13 संक्रमित मरीजों की मौत हो गई। यहां प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार, 374 नये मामले सामने आने से प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमितों की कुल संख्या बढकर 89,218 हो गयी है। नये मामलों में, सर्वाधिक 152 मामले देहरादून जिले में सामने आए, जबकि नैनीताल में 53 मामले सामने आए। शनिवार को प्रदेश में 13 और कोविड मरीजों की मौत हो गई। महामारी से अब तक प्रदेश में 1476 मरीज जान गंवा चुके हैं। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना के बावजूद रेलवे अपनी आमदनी से परिचालन व्यय को करेगा पूरा: वीके यादव 

जम्मू-कश्मीर में कोविड 19 के 249 नए मामले

जम्मू-कश्मीर में शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 249 नए मरीजों पुष्टि हुई और छह संक्रमितों की मौत हो गई। अधिकारियों ने बताया कि केंद्र शासित प्रदेश में कोविड-19 के कुल मामले 1,19,877 हो गए हैं और 1867 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। उन्होंने बताया कि नए मामलों में 123 कश्मीर से और 126 जम्मू संभाग सेआए हैं। अधिकारियों ने बताया कि जम्मू जिले में सबसे ज्यादा 96 मरीजों की पुष्टि हुई है। इसके बाद श्रीनगर जिले में 49 मामले आए हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 3,288 रह गई है। प्रदेश में अबतक 1,14,722 मरीज संक्रमण से उबर चुके हैं। वहीं कश्मीर में दो जबकि जम्मू में चार संक्रमित मरीजों की मौत हुई है।

कर्नाटक में कोरोना संक्रमण से सात लोगों की मौत

कर्नाटक में शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 857 नए मामले सामने आए, जिसके साथ ही राज्य में अब तक संक्रमण के कुल 9,15,345 मामले सामने आ चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग के ताजा बुलेटिन के मुताबिक, इसी अवधि में कोविड-19 के सात मरीजों की मौत के बाद इस घातक वायरस के कारण जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 12,051 तक पहुंच गई। संक्रमणमुक्त होने के बाद शनिवार को 964 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। इसके साथ ही 8,89,881 लोग संक्रमणमुक्त हो चुके हैं। राज्य में शनिवार को 95,552 नमूनों की जांच की गई जबकि अब तक 1,36,09,914 नमूनों का परीक्षण किया जा चुका है। बुलेटिन के मुताबिक, ब्रिटेन से कर्नाटक आए 1,434 यात्रियों के नमूनों का परीक्षण किया गया है, जिनमें से 23 में संक्रमण की पुष्टि हुई है और 503 नतीजों का इंतजार है। शनिवार को सामने आए 857 नए मामलों में से बेंगलुरु शहरी क्षेत्र में 471 मामले सामने आए हैं। राज्य में फिलहाल 13,394 मरीज उपचाराधीन हैं।

बिहार में मृतकों की संख्या बढ़कर 1,379 हुई

बिहार में शनिवार को कोविड-19 के 474 नए मामले सामने आने के साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण के कुल 2,50,449 मामले हो गए। वहीं, छह और संक्रमितों की मौत होने से मृतक संख्या 1,379 हो गई। स्वास्थ्य बुलेटिन में यह जानकारी दी गई। बुलेटिन के मुताबिक नए मामलों में 196 पटना से, मुजफ्फरपुर से 28, और सीतामढ़ी से 20 हैं। बिहार में 5,085 मरीजों का इलाज चल रहा है। अब तक कुल 2,43,985 रोग से उबर चुके हैं जिनमें से 730 लोग बीते 24 घंटे में ठीक हुए। राज्य में अब तक 1.77 करोड़ नमूनों की कोविड-19 की जांच की गई है। 

इसे भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में भी UK के खतरनाक कोरोना का खौफ फैला, ब्रिटेन से लौटे अब 4 लोग कोरोना पॉजेटिव मिले 

सेना के 150 जवान कोविड-19 से संक्रमित पाए गए

गणतंत्र दिवस और सेना दिवस परेड में भाग लेने के लिए पिछले कुछ हफ्तों में विभिन्न स्थानों से राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे लगभग 150 सैन्यकर्मी कोविड-19 से संक्रमित पाए गए हैं।आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि दोनों परेड में भाग लेने वाले सभी कर्मियों को कोविड-19 संक्रमण से बचाने के लिए तैयार किए गए एक सख्त प्रोटोकॉल के तहत अनिवार्य कोविड-19 परीक्षण के दौरान उनमें संक्रमण का पता चला। सूत्रों ने कहा कि नवंबर के अंत से ही 2,000 से अधिक सैन्यकर्मी परिवहन के विभिन्न साधनों का उपयोग करते हुए गणतंत्र दिवस और सेना दिवस परेड के लिए दिल्ली पहुंचे हैं और उन सभी को सुरक्षित वर्ग में डालने से पहले कोविड-19 जांच करानी पड़ी। उन्होंने कहा कि जिन लोगोंकी जांच रिपोर्ट निगेटिव आयी है उन्हें सुरक्षित वर्ग में रखा जा रहा है। यह वर्ग उन सभी कर्मियों को समायोजित करने के लिए बनाया गया है जो परेड की टुकड़ियों का हिस्सा होंगे। सूत्रों ने कहा कि संक्रमित पाए गए 150 जवानों में संक्रमण के कोई लक्षण नहीं हैं और ठीक होने के बाद सुरक्षित वर्ग में शामिल हो सकते हैं। नाम न छापने की शर्त पर एक अधिकारी ने कहा, हम गणतंत्र दिवस और सेना दिवस परेड के प्रतिभागियों के लिए एक बहुत ही सख्त कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं। महामारी को देखते हुए जवानों की सुरक्षा के लिए बड़ी रणनीति के रूप में सुरक्षित वर्ग स्थापित किया गया है।” सेना ने लद्दाख में और नियंत्रण रेखा के साथ-साथ कुछ संरचनाओं में भी सुरक्षित वर्ग स्थापित किए गए हैं। सूत्रों ने कहा कि जो सैनिक संक्रमित पाए गए हैं उन्हें पृथकवास और चिकित्सकों की निगरानी में रखा गया है।

 तमिलनाडु में कोविड-19 के 1,019 नए मामले       

तमिलनाडु में शनिवार को कोविड-19 के 1,019 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 8,13,161 हो गई। राज्य में 11 और लोगों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 12,059 हो गई। स्वास्थ्य विभाग ने एक बुलेटिन में बताया कि चेन्नई में संक्रमण के 295 नए मामले सामने आए। अब तक राज्य में 7,92,063 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 9,039 है।      





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।