आबकारी नीति से शुरु हुआ बवाल सरकारी स्कूलों तक आ पहुंचा, भाजपा ने केजरीवाल सरकार पर लगाए भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप

BJP
Twitter
अनुराग गुप्ता । Aug 29, 2022 11:03AM
भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा कि 2.5 साल पहले सीवीसी ने दिल्ली विजिलेंस के सचिव को शिक्षा में घोटाले का खुलासा करने वाली रिपोर्ट भेजी थी। केजरीवाल ने इस घोटाले का संज्ञान क्यों नहीं लिया ? 2.5 साल में क्यों नहीं हुई कार्रवाई ?

दिल्ली की आबकारी नीति को लेकर शुरू हुआ बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) लगातार आम आदमी पार्टी पर हमला बोल रही है और दिल्ली का सत्तारूढ़ दल भी जवाब दे रहा है। इसी बीच भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव भाटिया ने बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि हम लोग आपके समक्ष इससे पहले बड़ी प्रमुखता से जो अरविंद केजरीवाल की पाप सरकार है उसका आबकारी घोटाला सामने रखते आए हैं। इससे पहले दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन जिनको कट्टर ईमानदार का सर्टिफिकेट केजरीवाल ने दिया था, वो तीन महीने से जेल में हैं, अभी तक मंत्री पद से हटाए नहीं गए हैं।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली विधानसभा में विश्वास मत पेश करेंगे अरविंद केजरीवाल, भाजपा पर लगाए बड़े आरोप 

क्यों नहीं हुई कार्रवाई ?

उन्होंने कहा कि जब बार-बार कठिन प्रश्न भाजपा पूंछती है, तो केजरीवाल कहते थे कि विश्व के सबसे बढ़िया शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया हैं। न्यूयॉर्क टाइम्स में उनका नाम आता है इसलिए राजनीतिक द्वेष से प्रताड़ित किया जाता है। तो अब बात दिल्ली की शिक्षा की ही हो जाए। गौरव भाटिया ने कहा कि 2.5 साल पहले सीवीसी ने दिल्ली विजिलेंस के सचिव को शिक्षा में घोटाले का खुलासा करने वाली रिपोर्ट भेजी थी। केजरीवाल ने इस घोटाले का संज्ञान क्यों नहीं लिया ? 2.5 साल में क्यों नहीं हुई कार्रवाई ?

उन्होंने कहा कि इस बार नाटक करने से काम नहीं चलेगा क्योंकि हमारे तथ्य बहुत मजबूत हैं। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी का मैनिफेस्टों अगर देखें तो केजरीवाल ने वादा किया था कि 500 नए स्कूल दिल्ली में बनवाएंगे। 500 नए स्कूल तो नहीं बने, लेकिन एक बहुत ही सुनियोजित तरीके से पहले पीडब्ल्यूडी विभाग से रिपोर्ट मंगवाते हैं। अब कहा जाता है कि जो स्कूल हैं उनमें अब अतिरिक्त कमरें बनवाएंगे, नए स्कूल नहीं खुलवाएंगे। स्कूलों में 2,400 कमरों की जरूरत थी, लेकिन इसको बढ़ाकर 7,180 किया गया।

CPWD के प्रावधानों की हुई अनदेखी

उन्होंने कहा कि लाभ के लिए सीपीडब्ल्यूडी नियमावली के प्रावधानों की अनदेखी करते हुए 50-90 फीसदी बढ़ी हुई निर्माण लागत को दिखाया गया ताकि चुनिंदा ठेकेदारों को निविदा दी जा सके। सीवीसी जांच रिपोर्ट के रूप में चिंता का विषय है कि एक बड़ा घोटाला हुआ, 2.5 साल पहले दिल्ली सरकार के सतर्कता सचिव को भेजा गया था। उन्होंने कहा कि लागत में वृद्धि के कारण 6133 क्लासेस का निर्माण किया जाना था। लेकिन केवल 4027 क्लासरूम ही बने।

इसे भी पढ़ें: अनुराग ठाकुर ने मनीष सिसोदिया को बताया शराब स्कैम मिनिस्टर, बोले- पाठशाला नहीं, जगह-जगह मधुशाला खोलने का करते हैं काम 

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि 33 फीसदी क्लासरूम जो बढ़ी हुई लागत में कम बने, ये भी घूमकर कालाधन आपकी ही तिजोरी में आया है, क्या हमारे तथ्य गलत हैं ? यह सवाल पूछने का हक दिल्ली की जनता को है ना ? उन्होंने कहा कि घोटाला करने में अगर कोई एक्सपर्ट हो गया है, जो सुबह, शाम, रात, दिन सोच रहा है कि कैसे घोटाला करके धन अर्जित करूं... यह मनीष सिसोदिया और अरविंद केजरीवाल हैं ?

केजरीवाल का विश्वास प्रस्ताव

भाजपा ने सीधे-सीधे अरविंद केजरीवाल पर बड़ा हमला बोला है। वहीं दूसरी तरफ अरविंद केजरीवाल का कहना है कि उनकी पार्टी ने दिल्ली में ऑपरेशन लोटस को विफल कर दिया। ऐसे में अरविंद केजरीवाल दिल्ली विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव ला रहे हैं। जबकि उनके पास स्पष्ट बहुमत दिखाई दे रहा है। इतना ही नहीं दिल्ली से लेकर गुजरात तक में की गई तमाम रैलियों में अरविंद केजरीवाल ने मनीष सिसोदिया के खिलाफ हुई सीबीआई कार्रवाई का जिक्र किया और तो और उन्हें भारत रत्न देने की मांग तक कर बैठे।

अन्य न्यूज़