राजनाथ का कांग्रेस पर तंज, कहा- राजनीति में विश्वास का संकट पैदा किया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 27, 2018   10:24
राजनाथ का कांग्रेस पर तंज, कहा- राजनीति में विश्वास का संकट पैदा किया

केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को कहा कि कांग्रेस के लोगों ने राजनीति में विश्वास का संकट पैदा किया जबकि भाजपा ने इस चुनौती को स्वीकार किया है।

धौलपुर/जयपुर। केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को कहा कि कांग्रेस के लोगों ने राजनीति में विश्वास का संकट पैदा किया जबकि भाजपा ने इस चुनौती को स्वीकार किया है। जयपुर की आमेर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि कांग्रेस की कथनी और करनी में अंतर है। कांग्रेस के लोगों ने विश्वास का संकट पैदा किया है और भाजपा ने इस चुनौती को स्वीकार किया है। भाजपा की सरकारों ने अपने काम के जरिये यह करके दिखा दिया है।

इसे भी पढ़ें: मंदिर और गाय मामले में राजनाथ का बयान, कहा- कांग्रेसियों ने बनाया चुनावी मुद्दा

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेताओं ने प्रधानमंत्री की मां को भी नहीं बख्शा। प्रधानमंत्री का पद एक संस्था होती है ना कि एक व्यक्ति। उन्होंने कहा कि रावण राम से ज्यादा धनवान और ज्ञानी था लेकिन पूजा राम की होती है क्योंकि उन्होंने जीवनभर मर्यादा का पालन किया। इससे पहले धौलपुर के राजाखेड़ा विधानसभा क्षेत्र में जनसभा को संबोधित करते हुए सिंह ने कहा कि विकास के लिए सुरक्षा सर्वाधिक महत्वपूर्ण है। भारतीय सेना तथा अर्धसैनिक बल के जवान अपनी जान की परवाह किए बिना देश की सुरक्षा में जी जान से जुटे हैं।

इसे भी पढ़ें: मध्यप्रदेश में कांग्रेस बिना दूल्हे की बारात, जीत का चौका मारेगी भाजपा

सिंह ने कहा कि सेना गोलियों का हिसाब रखे बिना आतंकवादियों को मुहंतोड जबाब दे रही है और देश की सुरक्षा के साथ में कोई भी समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपनी तरफ से पाकिस्तान जाकर रिश्ते बेहतर बनाने की कोशिश की लेकिन पाकिस्तान नहीं सुधरा। इसलिए सेना के जवानों को कहा गया है कि पहली गोली वे ना चलाएं लेकिन अगर पाकिस्तान की तरफ से पहली गोली चलती है तो जबाब में गोलियों का कोई हिसाब ना रखा जाए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।