मध्य प्रदेश के तेंदूखेड़ा में दुष्कर्म करने का आरोपी ढोंगी बाबा गिरफ्तार

मध्य प्रदेश के तेंदूखेड़ा में दुष्कर्म करने का आरोपी ढोंगी बाबा गिरफ्तार

तेंदूखेड़ा थाना की एसआई रूचिका सूर्यवंशी ने बताया कि पीड़िता पन्ना जिले की निवासी है जो दमोह जिले में अपनी बहन के यहां रह रही थी। पीड़िता का आरोप है कि करीब 4 साल पहले 2017 में वह इंदौर गई थी। आरोपित आशीष से उसकी पहचान गलत मोबाईल नंबर से हुई थी

नरसिंहपुर। युवती के साथ दुष्कर्म करने के आरोपी मृगेंद्रनाथ में रहने वाले ढोंगी बाबा अखंड चैतन्य उर्फ आशीष कश्यप को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। तेंदूखेड़ा तहसील के मृगेंद्रनाथ धाम में हिजड़े की वेशभूषा रखकर खुद को स्वयं सिद्ध बाबा कहने वाले ढोंगी अखंड चैतन्य उर्फ आशीष कश्यप ने पन्ना जिले की एक युवती को पहले प्रेमजाल में फंसाया। इसके बाद वह कई महीनों तक दुराचार करता रहा। जब युवती को ये समझ में आया कि ढोंगी सिर्फ उसका दैहिक शोषण कर रहा है तो उसने तेंदूखेड़ा थाना पहुंचकर बाबा के खिलाफ दुष्कर्म की शिकायत दर्ज कराई।

 

इसे भी पढ़ें: राष्ट्रपति के मध्य प्रदेश प्रवास को लेकर तैयारियां शुरू, 6 और 7 मार्च को है प्रस्तावित यात्रा

पुलिस ने आरोपी ढोंगी बाबा के खिलाफ धारा 376, 376-2 एम, 506, 328 के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया है। आरोपी आशीष मूलत: इंदौर जिले का निवासी है जो करीब 12 वर्षो से तेंदूखेड़ा थाना क्षेत्र के ग्राम पीपरपानी से लगे मृगेंद्रनाथ में रह रहा था। तेंदूखेड़ा थाना की एसआई रूचिका सूर्यवंशी ने बताया कि पीड़िता पन्ना जिले की निवासी है जो दमोह जिले में अपनी बहन के यहां रह रही थी। पीड़िता का आरोप है कि करीब 4 साल पहले 2017 में वह इंदौर गई थी। आरोपित आशीष से उसकी पहचान गलत मोबाईल नंबर से हुई थी, जिसमें उसने स्वयं को अखंड चैतन्य बताने के साथ कहा कि वह इंदौर जिले का रहने वाला है। वह जिस स्थान पर रहता है वहां आने से उसकी सारी मनोकामनाएं पूरी हो जाएंगी। बातों में फंसाकर उसने युवती को बुलाया और फिर शादी का झांसा देकर उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया गया।

 

इसे भी पढ़ें: चौरसिया के आने से कांग्रेस में बवाल, अरुण यादव ने साधा कमलनाथ पर निशाना

पीड़िता ने पुलिस को यह भी बताया है कि उसे जहरीला पदार्थ पिलाने की कोशिश भी की गई। साथ ही यह धमकी दी गई थी कि यदि उसने उसकी करतूत किसी को बताई तो उसे जान से मार दिया जाएगा। पीड़िता की शिकायत दर्ज करने के बाद आरोपित आशीष 34 वर्ष को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के अनुसार आरोपित आशीष ने भी युवती के संबंध में एक शिकायती आवेदन दिया है जिसकी जांच कराई जा रही है। बताया जाता है कि पीड़िता बीते बुधवार की शाम मामले की शिकायत करने पुलिस अधीक्षक के पास पहुंची थी जिसके बाद संबंधित थाना में प्रकरण दर्ज कराए जाने की कार्रवाई हुई। मामला दर्ज होने के बाद थाना प्रभारी अक्रजय धुर्वे ने पुलिस टीम के साथ घटनास्थल की जांच की। 

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश के सतना में कट्टे की नोक पर पेट्रोल पंप पर लूट

आरोपी ढोंगी बाबा अखंड चैतन्य मृगेंद्रनाथ में आश्रम बनाकर रहता था। जिसने यहां अखंड संकीर्तन भी शुरू कराया था। जिससे 24 घंटे मृगेंद्रनाथ में संकीर्तन करने लोगों की उपस्थिति रहती थी। आरोपी का कुछ महिनों पहले ही विवाह हुआ था। पीड़िता का कहना है कि आशीष ने जब दूसरी लड़की से विवाह किया था तो उसने उसका विरोध भी किया था। जिस पर उसे जान से मारने की धमकी मिली थी। आरोपी आशीष कश्यप इंदौर में पढ़ाई करने के बाद जब क्षेत्र में आया था तो कुछ दिन ग्राम काचरकोना के एक मंदिर में रूकने का निर्णय लिया था। लेकिन कुछ समय बाद वह मृगेंद्रनाथ धाम पहुंच गया। इस क्षेत्र के प्रति लोगों की पूर्व से अगाध श्रद्धा होने से लोगों को आना जाना होता था। लोगों की आवाजाही को देखते हुए आरोपित ने लोगों का अपनी ओर ध्यान खींचने तरह-तरह के स्वांग रचाकर आयोजन शुरू किए। धर्म की आड़ लेकर लोगों को भ्रमित करता रहा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।