मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी वॉइसबोट सुविधा देने वाली देश की पहली कंपनी

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी वॉइसबोट सुविधा देने वाली देश की पहली कंपनी

वॉइसबोट एक अप्रत्यक्ष टेलीकॉलर है जो कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर आधारित है। कंपनी द्वारा इस अप्रत्यक्ष टेलीकॉलर को ‘‘निष्ठा‘‘ नाम दिया गया है। निष्ठा टेलीकॉलर शिकायतकर्ता के सवाल को प्राकृतिक भाषा प्रसंस्करण तकनीक के माध्यम से समझता है

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के निर्देशानुसार उपभोक्ताओं को निर्बाध गुणवत्तापूर्ण विद्युत आपूर्ति एवं बेहतर उपभोक्ता सेवाएँ प्रदान करने की दिशा में मध्य प्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने एक मिसाल कायम की है। देश की सभी शासकीय, निजी एवं सार्वजनिक क्षेत्र की संस्थाओं में मध्य प्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी पहली ऐसी कंपनी बन गई है जिसने कंपनी कार्यक्षेत्र के उपभोक्ताओं को शिकायतें दर्ज कराने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आधारित वॉइसबोट की सुविधा उपलब्ध कराई है।

 

इसे भी पढ़ें: कंटेनर-टवेरा की भिड़ंत में चार मजदूरों की मौत, आठ लोग घायल

निष्ठा टेलीकॉलर से लाभ

  •  शिकायत दर्ज करना आसान और सुविधाजनक।
  •  अप्रत्यक्ष टेलीकॉलर के माध्यम से शिकायत दर्ज होंगी।
  •  उपभोक्ता को शिकायत दर्ज करने में लगने वाले समय की बचत होगी।
  •  टेलीकॉलर के माध्यम से दर्ज होंगी त्रुटि रहित शिकायतें।
  •  उपभोक्ता शिकायतों का त्वरित निराकरण सुनिश्चित होगा।
  •  उपभोक्ता अपनी शिकायतें क्षेत्रीय भाषाओं में भी दर्ज करा सकेंगे।
  •  समानांतर 300 कॉल पर प्रतिक्रिया संभव हो सकेगी।
  •  उपभोक्ता संतुष्टि में वृद्धि होगी।
 

इसे भी पढ़ें: राष्ट्रीय नारी शक्ति पुरस्कार के लिए 31 जनवरी, 2021 तक ऑनलाइन आवेदन

कंपनी कार्यक्षेत्र के उपभोक्ता अपनी बिजली आपूर्ति से संबंधित, वितरण ट्रांसफार्मर से संबंधित तथा बिजली बिल से संबंधित सभी प्रकार की शिकायतें काल सेंटर नंबर 1912 पर अप्रत्यक्ष टेलीकॉलर (वॉइसबोट सुविधा) के माध्यम से दर्ज करा सकते हैं। उपभोक्ता कॉल सेन्टर नंबर 1912 पर कॉल लगाकर इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। यह व्यवस्था कंपनी कार्यक्षेत्र के भोपाल, नर्मदापुरम्, ग्वालियर एवं चंबल संभाग के 16 जिलों के विद्युत उपभोक्ताओं के लिए लागू कर दी गई है। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने मध्य क्षेत्र कंपनी के अधिकारियों और कर्मचारियों को इस उपलब्धि के लिए बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।

 

इसे भी पढ़ें: मुनाफा दिलवाने के नाम पर 20 लाख से अधिक की धोखाधड़ी

कंपनी के महाप्रबंधक (सूचना प्रौद्योगिकी) अभिषेक मार्तण्ड ने बताया है कि सूचना प्रौद्योगिकी अनुभाग द्वारा ‘‘निष्ठा‘‘ टेलीकालर को क्षेत्रीय भाषाओं के अनुसार भी प्रतिक्रिया व्यक्त करने की दक्षता को विकसित किया जा रहा है। इस व्यवस्था से काल सेंटर में 150 काल के स्थान पर समानांतर 300 कॉल पर प्रतिक्रिया संभव हो सकेगी। व्यस्त कार्यसमयावधि के दौरान भी शिकायत दर्ज करने में लगने वाले समय में कटौती होगी तथा तत्परता से निष्पादन संभव होगा।

 

इसे भी पढ़ें: फेसबुक पर धार्मिक भावनाएं भड़काने वाली पोस्ट की शेयर, पुलिस ने किया मामला दर्ज

क्या है वॉइसबोट (Voicebot) सुविधा

वॉइसबोट एक अप्रत्यक्ष टेलीकॉलर है जो कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर आधारित है। कंपनी द्वारा इस अप्रत्यक्ष टेलीकॉलर को ‘‘निष्ठा‘‘ नाम दिया गया है। निष्ठा टेलीकॉलर शिकायतकर्ता के सवाल को प्राकृतिक भाषा प्रसंस्करण तकनीक के माध्यम से समझता है एवं उपभोक्ता द्वारा दिए गए इनपुट के आधार पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करता है। उपभोक्ता द्वारा दी गई सीमित जानकारी के आधार पर उपभोक्ता को एक आरामदायक एवं सुविधाजनक वातावरण प्रदान कर शिकायत को दर्ज करता है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।