विपक्षी दलों में चोरी और फिर सीनाजोरी दिखाने का हो गया चलन: सिसोदिया मामले में बोले नरेंद्र सिंह तोमर

Narendra Singh Tomar
ANI Image
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा अपने सहयोगी उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को भारत रत्न दिए जाने की मांग पर टिप्पणी करते हुए केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि आप पार्टी बेवजह परेशान है, अगर कोई जांच हो रही है, तो जांच एजेंसी पर सवाल उठाना, राजनीति करना अनुचित है।

बरेली। केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मंगलवार को विपक्ष पर कड़ा प्रहार करते हुए आरोप लगाया कि ‘‘विपक्षी दलों में चोरी और फिर सीनाजोरी दिखाने का का चलन हो गया है।’’ बरेली के इज्जतनगर स्थित भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान (आईवीआरआई) के दीक्षांत समारोह को संबोधित करने के बाद उन्होंने संवाददाताओं से बातचीत के दौरान यह आरोप लगाया। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा अपने सहयोगी उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को भारत रत्न दिए जाने की मांग पर टिप्पणी करते हुए तोमर ने कहा कि आप पार्टी बेवजह परेशान है, अगर कोई जांच हो रही है, तो जांच एजेंसी पर सवाल उठाना, राजनीति करना अनुचित है। उन्होंने भाजपा में सिसोदिया को लाने की कोशिश के दावे को भी असत्य और भ्रामक करार दिया।

इसे भी पढ़ें: 'पहली बार BJP को याद आ रही है नानी', केजरीवाल बोले- गुजरात में सरकार बनने पर फरवरी में होंगे तलाटी के पेपर 

उन्होंने कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य संबंधी मामलों पर गठित समिति ने बैठक शुरू कर दी है। कांग्रेस द्वारा प्रस्तावित यात्रा पर उन्होंने कहा कि सब अपनी साख बचाने में लगे हुए हैं। आईवीआरआई, इज्जतनगर (बरेली) के दसवें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए तोमर ने कहा कि भारत सरकार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश को बदलने व आगे बढ़ाने के लिए पूरी गंभीरता से साथ काम कर रही है। उन्होंने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर सभी को अपने पुराने संकल्प पूर्ण करना है और नए संकल्प लेकर उन पर काम करना चाहिए, ताकि देश जब आजादी की 100 वीं सालगिरह मनाए तब वह श्रेष्ठ राष्ट्र के रूप में स्थापित हो।

इसे भी पढ़ें: मनीष सिसोदिया की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, मानहानि केस में असम की कोर्ट ने जारी किया समन 

उन्होंने कहा कि इसके लिए संस्थानों, विद्यार्थियों सभी को एकजुट होकर योगदान देना चाहिए। तोमर ने प्रकृति व पशुओं का रिश्ता अटूट बताते हुए कहा कि मनुष्यों के साथ-साथ पशुधन-पक्षियों की देखभाल व उनके स्वास्थ्य की चिंता करना भी हमारा कर्त्तव्य है। उन्‍होंने कहा कि पशुपालन क्षेत्र के महत्व के मद्देनजर ही प्रधानमंत्री मोदी ने आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत पशुपालन अवसंरचना कोष के रूप में 15 हजार करोड़ रुपये के विशेष पैकेज का प्रावधान किया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़