तेजस एक्सप्रेस में सफर करने वालों को मिलेगा 25 लाख रुपये तक का नि:शुल्क रेल यात्रा बीमा

those-traveling-on-tejas-express-will-get-free-rail-travel-insurance-up-to-rs-25-lakh
नों में कोई छूट, विशेष सुविधा या ड्यूटी पास लागू नहीं होगा। पांच साल से ज्यादा आयु के बच्चों के लिए पूरा किराया लगेगा। उसमें कहा गया है, ‘‘तत्काल कोटा की कोई सुविधा नहीं होगी। एक्जेक्यूटिव श्रेणी और एसी चेयर कार श्रेणी के प्रत्येक डिब्बे में पांच सीटे विदेशी पर्यटकों के लिए आरक्षित होंगी।’’

नयी दिल्ली। आईआरसीटीसी की दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस से यात्रा करने वाले यात्रियों को 25 लाख रुपये प्रति यात्री के हिसाब से नि:शुल्क रेल यात्रा बीमा मिलेगा। आईआरसीटीसी की योजना के अनुसार, यह एक्सप्रेस सेवा अगले महीने से शुरू होगी। इसमें यात्रियों को उनके घर से सामान लाकर ट्रेन में रखने, आराम करने के लिए विशेष लाउंज जैसी सुविधाएं निश्चित शुल्क पर उपलब्ध होंगी। दिल्ली-लखनऊ और मुंबई-अहमदाबाद तेजस एक्सप्रेस भारतीय रेल की अनुषंगी आईआरसीटीसी द्वारा चलायी जाने वाली पहली ट्रेनें हैं।

इसे भी पढ़ें: शराबियों ने ट्रेन में जमाई महफिल और करने लगे हुड़दंग, ओम बिड़ला ने परेशान होकर बुलाई पुलिस

साथ ही कुछ विशेष ट्रेनों का संचालन निजी ऑपरेटरों को सौंपने की दिशा में यह भारतीय रेलवे का परीक्षण भी होगा। ट्रेन के संचालन से जुड़े दस्तावेज के अनुसार, ‘‘आईआरसीटीसी की दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस से यात्रा करने वाले यात्रियों को 25 लाख रुपये का नि:शुल्क यात्रा बीमा दिया जाएगा। इस ट्रेन के यात्रियों को लखनऊ जंक्शन पर प्रतीक्षालय और नयी दिल्ली रेलवे स्टेशन पर एक्जेक्यूटिव लाउंज और बैठकों के लिए लाउंज की सुविधा उपलब्ध होगी।’’ इन ट्रेनों में कोई छूट, विशेष सुविधा या ड्यूटी पास लागू नहीं होगा। पांच साल से ज्यादा आयु के बच्चों के लिए पूरा किराया लगेगा। उसमें कहा गया है, ‘‘तत्काल कोटा की कोई सुविधा नहीं होगी। एक्जेक्यूटिव श्रेणी और एसी चेयर कार श्रेणी के प्रत्येक डिब्बे में पांच सीटे विदेशी पर्यटकों के लिए आरक्षित होंगी।’’

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़