पवार से मिलीं ममता, UPA के अस्तित्व पर उठाए सवाल, बोलीं- भाजपा के खिलाफ मजबूती से लड़ना जरूरी

पवार से मिलीं ममता, UPA के अस्तित्व पर उठाए सवाल, बोलीं- भाजपा के खिलाफ मजबूती से लड़ना जरूरी

शरद पवार से मुलाकात करने के बाद ममता बनर्जी ने कहा कि भाजपा के खिलाफ मजबूती से लड़ना जरूरी है और इसके लिए हम सभी को जमीन पर लड़ाई लड़नी होगी। इसके साथ ही बड़ा बयान देते हुए ममता बनर्जी ने यह भी साफ कर दिया कि अब यूपीए जैसा कुछ भी नहीं है।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी मुंबई दौरे पर हैं। मुंबई दौरे के दौरान वह विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं से मुलाकात कर रही हैं। इसी कड़ी में आज उनकी मुलाकात एनसीपी प्रमुख और वरिष्ठ नेता शरद पवार से हुई। शरद पवार से मुलाकात करने के बाद ममता बनर्जी ने कहा कि भाजपा के खिलाफ मजबूती से लड़ना जरूरी है और इसके लिए हम सभी को जमीन पर लड़ाई लड़नी होगी। इसके साथ ही बड़ा बयान देते हुए ममता बनर्जी ने यह भी साफ कर दिया कि अब यूपीए जैसा कुछ भी नहीं है।

ममता ने कहा कि मैं महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे और शरद पवार से मुलाक़ात करने के लिए आईं थीं। आज देश में जैसा फांसीवाद चल रहा है, इसके ख़िलाफ़ देश में एक मज़बूत वैकल्पिक फोर्स बनाना चाहिए। इसलिए मैं शरद पवार के पास राजनीतिक चर्चा करने के लिए आईं हुईं हूं। उन्होंने कहा कि कोई दल अकेला कुछ नही कर सकता। एनसीपी प्रमुख शरद पवार से जब पूछा गया कि क्या कांग्रेस इसका हिस्सा होगी, पवार ने कहा कि कांग्रेस हो या कोई अन्य पार्टी, बात यह है कि जो भाजपा के खिलाफ हैं, अगर वे एक साथ आएंगे, तो उनका स्वागत है। 

इसे भी पढ़ें: ममता 'दीदी' ने आदित्य और संजय से की मुलाकात, नहीं मिले उद्धव ठाकरे

शरद पवार का बयान

दूसरी ओर शरद पवार ने कहा कि भाजपा के खिलाफ मजबूत विपक्ष जरूरी है। हम सभी को एकजुट होकर लड़ाई लड़नी होगी। उन्होंने कहा कि संजय राउत और आदित्य ठाकरे ने उनसे मुलाकात की। हमारी ममता बनर्जी के साथ बातचीत हुई। आज की स्थिति में राष्ट्रीय स्तर पर समान विचारधारा वाले दलों को एक साथ आना चाहिए और सामूहिक नेतृत्व के लिए एक मजबूत विकल्प तैयार करना चाहिए। हम 2024 के आम चुनाव के बारे में भी सोच रहे हैं। पवार ने कहा कि हमें नेतृत्व के लिए एक मजबूत विकल्प प्रदान करना होगा। हमारी सोच आज के लिए नहीं चुनाव के लिए है। इसे स्थापित करना होगा और इसी मंशा के साथ उन्होंने दौरा किया है और हम सभी के साथ बहुत सकारात्मक चर्चा की है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...